क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मालदीव में १०० करोड़ की धनराशि से मस्जिदे बनवाने का ऐलान किया ?

False International Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

९ जून २०१९ को फेसबुक के ‘Shashi Bhanu Singh’ नामक एक यूजर ने ‘बीजेपी सोशल मीडिया’ नामक पेज पर एक पोस्ट साझा किया है | पोस्ट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फोटो के साथ एक खबर साझा की गई है | पोस्ट के विवरण में लिखा है –

नरेंद्र दामोदर दास गांधी मालदीव में 100 करोड़ की धनराशि से मस्जिदे बनवायेंगे मोदी जी आप से ये उम्मीद नहीं थी |

इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मालदीव में १०० करोड़ रुपये खर्च कर मस्जिदे बनवाने का ऐलान किया है | आइये जानते है इस दावे की सच्चाई |

ARCHIVE POST

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले पोस्ट में साझा बीबीसी की खबर को ढूंढा | इस खबर में लिखा गया है की, नरेंद्र मोदी ने कहा, “हम अडू में बुनियादी ढांचे विकास और ऐतिहासिक जुमा मस्जिद के निर्माण में सहयोग करने को लेकर सहमत हुए हैं.”| इस खबर में १०० करोड़ या कई मस्जिदों के निर्माण की बात नहीं कही गई है | प्रधानमंत्री मोदी ने मालदीव की पुरानी जुमा मस्जिद के निर्माण को लेकर सहयोग की बात की है |

ARCHIVE BBC

इसके बाद हमने जुमा मस्जिद के बारे ढूंढा | ‘juma masjid in maldives’ की वर्ड्स से ढूंढने पर हमें ‘द हिन्दू’ द्वारा ९ जून २०१९ को प्रसारित एक खबर मिली | पीटीआई के हवाले से दी गई इस खबर में कहा गया है कि, प्रधानमंत्री मोदी ने मालदीव की ‘पीपल्स मजलिस’ इस मालदीव की मुस्लिम-बहुल संसद को संबोधित करते हुए यह घोषणा की थी कि, भारत माले स्थित ऐतिहासिक जुमा मस्जिद के संवर्धन में सहयोग करेगा |

इस खबर में भी १०० करोड़ की धनराशी या कई मस्जिदों के निर्माण की बात प्रधानमंत्री मोदी ने नहीं कही है |

ARCHIVE HINDU

इसके अलावा हमें ‘इंडिया टुडे’ द्वारा ९ जून २०१९ को प्रसारित एक और खबर मिली, जिसमे यही कहा गया है कि, भारत माले स्थित ऐतिहासिक जुमा मस्जिद के संवर्धन में सहयोग करेगा | इस खबर में भी १०० करोड़ की धनराशी या कई मस्जिदों के निर्माण की बात प्रधानमंत्री मोदी ने नहीं कही है |

ARCHIVE TODAY

इसके अलावा हमें ANI द्वारा प्रसारित एक ट्वीट भी मिला | इस ट्वीट में भी कहा गया है कि, प्रधानमंत्री मोदी ने माले की ऐतिहासिक जुमा मस्जिद के संवर्धन में मालदीव का सहयोग करने की बात कही है |

ARCHIVE TWEET

साथ ही हमें प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किया गया वह ट्वीट भी मिला, जिसमे उन्होंने संसद को संबोधित करते हुए जुमा मस्जिद के संवर्धन की घोषणा की थी | आप वह ट्वीट नीचे देख सकते है, साथ ही संबोधन का वह हिस्सा भी सुन सकते है | प्रधानमंत्री ने स्पष्ट शब्दों में जुमा मस्जिद के संवर्धन में सहयोग की बात की है, ना की १०० करोड़ रूपये खर्च कर नई  मस्जिदों के निर्माण की बात की, जैसा कि उपरोक्त पोस्ट में दावा किया गया है |

ARCHIVE TWEET

आपको बता दें कि, मालदीव के माले शहर में स्थित ‘जुमा मस्जिद’ या ‘फ्राइडे मोस्क’ का निर्माण १६५८ में हुआ था | यह माले की बहुत प्राचीन मस्जिदों में से एक है, जो कोरल से बनी हुई है | लेकिन पर्यावरण की हानि से उसे खतरा पैदा हुआ है | इसलिए इस धरोहर के संवर्धन के प्रयास किये जा रहे है |

इस मस्जिद के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप नीचे दिए लिंक पर विडियो देख सकते है |

जांच का परिणाम :  इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में खबर के साथ किया गया दावा कि, “नरेंद्र दामोदर दास गांधी मालदीव में 100 करोड़ की धनराशि से मस्जिदे बनवायेंगे मोदी जी |” सरासर गलत है | प्रधानमंत्री मोदी ने ऐतिहासिक जुमा मस्जिद के संवर्धन के लिए भारत के सहयोग की घोषणा की है |

Avatar

Title:क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मालदीव में १०० करोड़ की धनराशि से मस्जिदे बनवाने का ऐलान किया ?

Fact Check By: Rajesh Pillewar 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •