सीरिया से आतंकियों के एक आठ साल पुराने वीडियो को तालिबान का बता वर्तमान अफगानिस्तान स्थिति से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

International Missing Context Terrorism
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर किये गये कब्ज़े को लेकर इंटरनेट पर हिंसक वीडियो व तस्वीरों को गलत दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। फैक्ट क्रेसेंडो ऐसे वीडियो व तस्वीरों का अनुसंधान कर अपने पाठकों तक उनकी प्रमाणिता पहुंचाता आ रहा है। ऐसा ही एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है, उस वीडियो में आप कुछ लोगों को मनुष्य के कटे हुये सिर से फुटबॉल खेलते हुये देख सकते है। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि कटे हुये सिर से फुटबॉल खेल रहे लोग तालिबानी आतंकी है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

ये तालिबानी आतंकी है कटे हुए सिरो से फुटबाल खेल रहे हैं । इस धरती पर मनुष्यता पर कलंक है आप सोचो आपने बच्चों को इनके लिए छोड़ना है या इन्हें धरती से खत्म करना है।”

आपको बता दें कि हमें वायरल हो रहा यह वीडियो एक उपभोक्ता द्वारा हमारे वॉटस्ऐप फैक्टलाइन नंबर 9049053770 पर फैक्ट चेक के लिए भेजा गया था

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा वीडियो वर्ष 2013 का सीरिया से है व इसका वर्तमान की अफगानिस्तान की स्थिति या फिर तालिबान से कोई सम्बंध नहीं है। 

सबसे पहले हमने वायरल हो रहे वीडियो की जाँच वीडियो को इनवीड-वी वैरिफाइ टूल के माध्यम से छोटे कीफ्रेम्स में काटकर गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च कर की, परिणाम में हमें यही वीडियो 29 दिसंबर 2013 को लवर्स ऑफ द सेक्रेटरी- जनरल ऑफ द काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स, मिस्टर अली अल- अलाख नामक एक फेसबुक पेज पर प्रसारित किया हुआ मिला। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “यज़ीदी के अनुयायियों, भगवान आपको शाप दें। कायर आई.एस.आई.एस संगठन सीरियाई लोगों के सिर काटकर उनके साथ फुटबॉल खेलकर उनका मनोरंजन कर रहे हैं।“

इसके बाद हमने उपरोक्त दी गयी जानकारी को ध्यान में रखते हुये फेसबुक पर कीवर्ड सर्च किया व परिणाम में हमें इस वीडियो में दिख रहे दृश्य की तस्वीर तहरीर न्यूज़ द्वारा 29 दिसंबर 2013 को अपने आधिकारिक व वैरिफाइड फेसबुक पेज पर प्रकाशित की हुई मिली। इस पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, “वीडियो में सीरिया के जिहादी मानव के कटे हुये सिर से गेंद की तरह खेलते हैं।“

तदनंतर हमने गूगल पर इस सम्बन्ध में कीवर्ड सर्च किया तो हमने पाया कि ar.abna24.com नामक एक वैबसाइट पर 29 दिसंबर 2013 को प्रकाशित किये गये एक समाचार लेख के मुताबिक वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे लोग सीरिया में स्थित आतंकवादी संगठन अल-कायदा के सदस्य है।

आर्काइव लिंक 

तत्पश्चात जाँच के दौरान हमें वायरल हो रहा यही वीडियो डेलीमोशन द्वारा आठ वर्ष पहले प्रसारित किया हुआ मिला, इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “वीडियो में दिख रहा दृश्य सीरिया में कटे हुए मानव सिर के साथ फ़ुटबॉल खेलते हुए जिहादियों को दर्शा रहा है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावे को संदर्भ से बाहर पाया है। यह वीडियो वर्ष 2013 का है। यह वीडियो सीरिया का है व इसका वर्तमान की अफगानिस्तान की स्थिति से कोई सम्बंध नहीं है।

Avatar

Title:सीरिया से आतंकियों के एक आठ साल पुराने वीडियो को तालिबान का बता वर्तमान अफगानिस्तान स्थिति से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: Missing Context


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply