२०१८ में आम आदमी पार्टी के एक कार्यक्रम में कपिल मिश्रा से हुई हाथापाई के एक पुराने वीडियो को वर्तमान में भा.ज.पा से जोड़कर फैलाया जा रहा है |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर अलग-अलग समय पर विभिन्न नेताओं और राजनैतिक दलों को निशाना बनाते हुए तरह-तरह के दावे फैलाये जाते रहें है | फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी ऐसे भ्रामक व गलत दावों का  शोध कर उनकी सच्चाई आपने पाठकों तक पहुंचाई है | इसी क्रम में वर्तमान में सोशल मीडिया पर भाजपा नेता कपिल मिश्रा के एक कार्यक्रम में शामिल होने का वीडियो फैलाते हुए दावा किया जा रहा है कि खुद उनकी पार्टी के सदस्यों द्वारा कपिल मिश्रा को पीटा गया| वीडियो में कपिल मिश्रा को एक वक्ता के साथ बहस में पड़ते हुए दिखाया गया है जिसके बाद स्पीकर गुस्से में कपिल मिश्रा के साथ मारपीट करने लगा |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि 

बद्तमीज दंगाई कपिल मिश्रा को खुद भाजपा वालो ने लात घूसों से पीटा | कपिल मिश्र को भाजपा वालों ने पीटा |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

यह वीडियो फेसबुक पर काफी तेजी से फैलाया जा रहा है |

अनुसंधान से पता चलता है कि….

फैक्ट क्रेसेंडो ने अनुसंधान कर पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो वर्तमान से सम्बंधित नहीं है और ना ही वीडियो में कपिल मिश्रा को भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा पीटा जा रहा है | २०१८ में कपिल मिश्रा और आम आदमी पार्टी के सदस्यों के बीच हुई हाथापाई का वीडियो वर्तमान में गलत दावे के साथ फैलाया जा रहा है | इस घटना के समय कपिल मिश्रा भाजपा या आप के सदस्य नहीं थे |

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रही वीडियो को ध्यान से देखने से की, हमें वायरल हो रहे वीडियो में इंडियाग्राम न्यूज़ लिखा हुआ मिला | इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने फेसबुक पर एक कीवर्ड सर्च किया | इस सर्च के परिणाम से हमें इंडियाग्राम न्यूज़ के फेसबुक पेज पर यह वीडियो ११ फरवरी २०१९ को अपलोड किया हुआ मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि
बीजेपी नेता अनिल गुप्ता ने #IndiaGramNews से बातचीत करते हुए बताया कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के खजूरी खास स्थित श्रीराम कॉलोनी वार्ड 64ई की निगम पार्षद हैं #शाइस्ता, लेकिन उनका सारा काम देखते हैं उनके दबंग ससुर हाजी बल्लू। इसके अलावा भी इलाके की दुर्दशा को लेकर भी पूर्व बीजेपी निगम प्रत्याशी ने ‘आप’ पर जमकर हमला बोला। सुनिए क्या कहना है बीजेपी नेता अनिल गुप्ता का |” 

इस वीडियो के शीर्षक में कपिल मिश्रा या उन्हें पीटने की घटना का कोई उल्लेख नहीं किया गया है |

इस वीडियो में दी गई जानकारी की मदद से हमने इस प्रकरण से सम्बंधित कीवर्ड सर्च किया जिसके परिणाम से हमें इस मामले से संबंधित अमर उजाला और आज तक द्वारा २०१८ प्रकाशित खबर मिली | आजतक द्वारा लिखी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि समर्थकों के बीच स्थानीय आप (आम आदमी पार्टी) पार्षद के ससुर हाजी बल्लू और आप के नेता कपिल मिश्रा के बीच हाथापाई हुई थी | इस पूरी घटना का वर्णन करते हुए अमर उजाला द्वारा २९ नवंबर २०१८ को प्रकाशित खबर के अनुसार २८ नवंबर को पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर बिपिन बिहारी सिंह करावल नगर के श्री राम कॉलोनी इलाके में बने कम्युनिटी सेंटर का उद्घाटन करने वाले थे, और इसी के चलते कपिल मिश्रा और स्थानीय पार्षद के ससुर हाजी बल्लू के बीच हाथापाई हो गई | रिपोर्ट में लिखा गया है कि “करावल नगर के श्रीराम कॉलोनी क्षेत्र में निर्मित सामुदायिक भवन का पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर बिपिन बिहारी सिंह ने उद्घाटन किया। इस दौरान एक पार्षद के ससुर के बयान पर आप और भाजपा नेताओं में भिड़ंत हो गई। नौबत धक्का-मुक्की तक पहुंच गई। बाद में स्थानीय बुजुर्ग और एक बच्चे से भवन का दोबारा उद्घाटन कराया गया |”

आर्काइव लिंक

जाँच में आगे बढ़ते हुए हमें कपिल मिश्रा द्वारा २८ नवंबर २०१८ को इस घटना के बारे में किया गया एक पोस्ट साझा किया हुआ मिला | इस पोस्ट में उनके द्वारा दैनिक जागरण द्वारा लिखे गये लेख को भी साझा किया गया है | कपिल मिश्रा के मुताबिक, आम आदमी पार्टी ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी कि उद्घाटन के दौरान उन्होंने मंच पर कब्जा कर लिया था | इस बात का खंडन करते हुए कपिल मिश्रा ने यह पोस्ट लिखा | उन्होंने यह भी कहा कि वह और उनके साथ आए लोग हाथापाई में शामिल नहीं थे |

इस पोस्ट में उन्होंने इस घटना का वर्णन देते हुए लिखा है की “मिली जानकारी के मुताबिक, श्रीराम कॉलोनी में सामुदायिक भवन के उद्घाटन समारोह में पार्षद शाइस्ता के बदले उनके ससुर हाजी बल्लू कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे। उद्घाटन मंत्री गोपाल राय को करना था, वह नहीं आए। इस पर हाजी बल्लू ने किसी बुजुर्ग या बच्चे से उद्घाटन करने की बात कही। इस पर कपिल मिश्रा ने कहा कि जब महापौर मौजूद हैं तो वही उद्घाटन करेंगे। इसी बात को लेकर वहां, जमकर हंगामा हुआ। हालांकि, हंगामे के बीच ही महापौर बिपिन बिहारी सिंह ने ही उद्घाटन किया |”

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच में आगे बढ़ते हुए भाजपा नेता कपिल मिश्रा के निजी सेक्रेटरी नितिन जी से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि “सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो के माध्यम से किये गये दावे सरासर गलत है | हाल ही में ऐसी कोई भी घटना नहीं घटी है जहाँ भाजपा कार्यकर्ताओं ने मिश्रा जी के साथ कोई अभद्र व्यवहार किया हो | वायरल वीडियो असल में २०१८ में हुई घटना से संबंधित है | उस समय वे आप से करावल नगर के विधायक थे | २०१७ में उन्हें आप द्वारा मंत्री पद से निलंबित कर दिया गया था परंतु वे अगस्त २०१९ तक आम आदमी पार्टी के तरफ से ही दिल्ली स्थित करावल के विधायक थे | इसके बाद अगस्त २०१९ में ही वे भाजपा में शामिल हुए |”

नितिन जी द्वारा दिए गए स्पष्टीकरण की पुष्टि करने के लिए हमने संदर्भित कीवर्ड सर्च किया जिसके परिणाम में हमने पाया कि मई २०१७ में कपिल मिश्रा को आम आदमी पार्टी ने निलंबित कर दिया गया था | इस खबर में उल्लेख किया गया है कि २०१७ में कपिल मिश्रा को दिल्ली राज्य सरकार में जल मंत्री के पद से निलंबित कर दिया गया था, हालाँकि गौरतलब है कि वे २०१९ मई तक आम आदमी पार्टी के सदस्य थे२०१९ मई में कपिल मिश्रा के आ.प में रहने के बावजूद उनके भा.ज.पा की तरफ से चुनाव प्रचार करने के आरोपों के कारण आम आदमी पार्टी ने उन्हें अगस्त २०१९ में “Anti-defection law (India) के तहत करावल नगर के विधायक पद से अक्षम किया गया था | इस घटना को भारत की कई मीडिया संगठनों ने उस समय रिपोर्ट किया था |

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो वर्तमान का नहीं है बल्कि २०१८ में हुई घटना से सम्बंधित है | २०१८ में आम आदमी पार्टी के कुछ सदस्यों के साथ हुई झड़प के वीडियो को सोशल मीडिया पर यह दावा करते हुए फैलाया जा रहा है कि हाल ही में कपिल मिश्रा को भाजपा के कार्यकर्ताओं ने पीटा |

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. महिलाओं द्वारा फिल्म डायरेक्टर की पीटाई के वीडियो को भा.ज.पा से जोड़ गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

२. मेक्सिको में मगरमच्छ के महिला पर हमला करने के वीडियो को भारत का बताकर फैलाया जा रहा है |

३. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा राम मंदिर पर किया कथित विवादित ट्वीट का स्क्रीनशॉट ट्वीट फर्ज़ी है।

Avatar

Title:२०१८ में आम आदमी पार्टी के एक कार्यक्रम में कपिल मिश्रा से हुई हाथापाई के एक पुराने वीडियो को वर्तमान में भा.ज.पा से जोड़कर फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •