क्या अमित शाह बंगाल के रोड शो में पैर फिसलकर गिर गए?

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१६ मई २०१९ को सपन महतो नामक एक फेसबुक यूजर ने एक विडियो पोस्ट किया है | विडियो का शीर्षक बंगाली भाषा में लिखा गया है | शीर्षक में लिखा गया है कि ২৩ মে আসতে না আসতেই সরকারের পতন শুরু৷ ঠেলা বুঝ্… বিদ্যাসাগরের মূর্তি ভাঙার ফল !” हिंदी अनुवाद- विद्यासागर की प्रतिमा को ध्वस्त करने का परिणाम उसके साथ सही हुआ | २३ मई से सरकार में गिरावट देखी जाएगी |

विडियो ९ सेकंड का है | विडियो में हम भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह को एक वाहन से पैर फिसलने से गिरते हुए देख सकते है |

अमित शाह ने, जो भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष हैं, हाल ही में पश्चिम बंगाल में एक रोड शो किया था | भाजपा कार्यकर्ताओं और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पार्टी के सदस्यों के बीच हिंसा भड़कने के बाद रोड शो सुर्खियों में आ गया है | झड़पों के परिणामस्वरूप ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़ा गया और दोनों पक्ष एक दूसरे पर दोषारोपण कर रहे थे |
चुनाव आयोग ने हिंसा और झड़पों के कारण पश्चिम बंगाल में अंतिम दौर के मतदान के लिए चुनाव प्रचार अवधि को कम कर दिया है | चुनाव आयोग ने संविधान के अनुच्छेद ३२४ को लागू किया, जो “चुनावों के अधीक्षण, निर्देशन और नियंत्रण” की अनुमति देता है |

इस झड़पो के बारें में पड़ने के लिए यहा क्लिक करे | आर्काइव लिंक

विडियो के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि यह विडियो बंगाल का है जहाँ अमित शाह हाल ही में रोड शो करने गए थे और उतरते वक्त पैर फिसलकर गिर गए है | इसके साथ ही यह दावा किया जा रहा है कि यह इश्वरचंद्र विद्यासागर का मूर्ति तोड़ने का फल है | यह विडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी चर्चा में है |

क्या वास्तव में यह विडियो बंगाल में अमित शाह के हाल में हुए रैली का है जिसकी वजह से कोलकाता में इतने दंगे हुए? हमने सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है कि..

जांच की शुरुआत हमने इस विडियो को अलग अलग कीवर्ड्स के माध्यम से गूगल पर ढूँढने से की | “अमित शाह फोलिंग फ्रॉम स्टेज और वेहिकल’ जैसे कीवर्ड्स का इस्तेमाल करते हुए हमें टाइम्स ऑफ़ इंडिया द्वारा अपलोड यह विडियो मिला | इस विडियो को २४ नवंबर २०१८ को टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने प्रसारित किया था | खबर में लिखा गया है कि अमित शाह के रथ से गिरने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है | यह घटना अशोक नगर में एक चुनावी रैली के दौरान हुई जहां अमित शाह आगामी विधानसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी के लिए प्रचार कर रहे थे |

आर्काइव लिंक

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने इस विडियो को २४ नवंबर २०१८ को यू-ट्यूब पर भी अपलोड किया है |

हमें गूगल पर २५ नवंबर २०१८ को प्रकाशित एनडीटीवी द्वारा प्रसारित खबर मिली | इस घटना पर एनडीटीवी की रिपोर्ट में कहा गया था कि, “भाजपा अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को पोल-बाउंड मध्य प्रदेश में अपने रोड शो के बाद वाहन से उतरते समय ठोकर खा गए और गिर गए | उनके एक अंगरक्षक ने तुरंत सहायता की और अमित शाह तुरंत बिना कोई चोट के खड़े होने में कामयाब रहे | घटना तुलसी पार्क में हुई |”

आर्काइव लिंक

द एशियन ऐज ने भी इस खबर को २५ नवंबर २०१८ को प्रकाशित किया है |

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने अलग अलग कीवर्ड्स का इस्तेमाल करते हुए यू-ट्यूब पर अमित शाह के इस रैली का विडियो ढूँढने की कोशिश की | परिणाम से हमें बीजेपी के अधिकारिक यू-ट्यूब अकाउंट द्वारा अपलोड विडियो मिला | यह विडियो २४ नवंबर २०१८ को लाइव स्ट्रीम किया गया था | विडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “मध्य प्रदेश के अशोकनगर में अमित शाह का रोड शो |”

निष्कर्ष: तथ्यों की जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | दावें अनुसार यह विडियो बंगाल का है, परंतु मूल विडियो २०१८ को मध्य प्रदेश अशोकनगर का है जहाँ अमित शाह विधानसभा चुनाव का प्रचार करने के लिए गए थे और पैर फिसलकर गिरते हुए देखे जा सकते है | इस विडियो का हाल ही में हुए बंगाल के रोड शो या दंगों के साथ कोई संबंध नहीं है |

Avatar

Title:क्या अमित शाह बंगाल के रोड शो में पैर फिसलकर गिर गए?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •