२०१८ के बांग्लादेश के वीडियो को भारत की वर्तमान स्थिति के नाम से वायरल किया जा रहा है |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर दिल्ली में हुई हिंसा से सम्बंधित कई विडियो क्लिपिंग फैलायी जा रही है जिनमे से कई या तो पुराने है या कई वर्तमान हिंसा से असंबंधित है, ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में है, जिसके माध्यम से यह वीडियो किया जा रहा है कि यह वीडियो वर्तमान दंगो से है जहाँ विडियो में दिख रहे मुस्लिम सुमदाय के लोग दंगे को भड़का रहे है | इस वीडियो में हम सैकड़ों लोगों को तोड़फोड़ करते हुए देख सकते है | सोशल मंच पर दावा कर रहे ट्विटर उपयोगकर्ता ने इस वीडियो में प्रधानमन्त्री और गृह मंत्री से इनके खिलाफ करवाई की मांग करते हुए टैग किया है |

आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इन्विड टूल की मदद से यांडेक्स रिवर्स इमेज सर्च करने  की, जिसके परिणाम में हमें ६ दिसंबर २०१८ को अपलोड किया गया एक यूट्यूब वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “बिश्वा इज्तेमा झड़प २०१८ बांग्लादेश |” यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का लम्बा वर्शन है | इससे इस बात की पुष्टि की जा सकती है कि यह वीडियो वर्तमान की दिल्ली हिंसा से नही है क्योंकि यह वीडियो २०१८ से ही इन्टरनेट पर उपलब्ध है |

बिश्वा इज्तेमा एक वार्षिक मण्डली है जो बांग्लादेश के टोंगी में हर साल होती है |

ये वीडियो कहा से है?

हमने उपरोक्त वीडियो के बारें में खबरों को ढूँढा, जिससे हमें २ दिसंबर २०१८ को डेली स्टार द्वारा प्रकाशित खबर मिली,जिसके अनुसार त्योहार के मैदान के हिस्से को लेकर १ दिसंबर, २०१८ को जोर इज्तेमा के दौरान टोंगी में दो प्रतिद्वंदी मुस्लिम गुट भिड़ गए | 

हमें एक स्थानीय बांग्ला समाचार चैनल ATN न्यूज़ की एक समाचार रिपोर्ट भी मिली, जिसने उन्होंने अपने आधिकारिक यूट्यूब  चैनल पर टोंगी में घटित उसी घटना का वीडियो प्रसारित किया था |

समाचार रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि लोगों ने ‘बाटा गेट’ को तोड़ते हुए टोंगी इज्तेमा मैदान में प्रवेश लिया था | हमने इंस्टेंट स्ट्रीट व्यू पर टोंगी में स्थित ‘बाटा गेट’ को ढूँढा जिसका परिणाम आप नीचे देख सकते है | 

नीचे आप वीडियो में दिखाए गये दृश्य और बांग्लादेश के टोंगी में स्थित बाटा गेट की समानताओं की तुलनात्मक तस्वीर आप नीचे देख सकते है | 

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात् हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | यह वीडियो हाल के दंगो से कोई संबंध नही रखता है और ना ही यह वीडियो भारत से है | यह वीडियो मूल तौर पर बांग्लादेश के टोंगी से है जहाँ २०१८ में दो गुटों के बीच झगड़ा हुआ था |

Avatar

Title:२०१८ के बांग्लादेश के वीडियो को भारत की वर्तमान स्थिति के नाम से वायरल किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •