क्या ड्रग्स केस में फरार अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया नये वर्ष के दिन स्वर्ण मंदिर में आए थे?

False Political

यह तस्वीरें पिछले वर्ष यानी 1 जनवरी 2021 की है। एक साल पुरानी तस्वीरें गलत जानकारी के साथ वायरल हो रहीं है।

पिछले महिने दिसंबर में पंजाब पुलिस के जाँच ब्यूरो (बीओआई) ने शिरोमणि अकाली दल के नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ ड्रग्स के मामले में केस दर्ज किया। उस समय से बिक्रम सिंह मजीठिया फरार है। 

इसके चलते उनकी कुछ तस्वीरों के लेकर दावा किया जा रहा है कि फरारा होने के बाद पहली बार उनको नव वर्ष के दिन स्वर्ण मंदिर में देखा गया। 

वायरल हो रहे पोस्ट में लिखा है, “ड्रग्स मामले में फरार चल रहे अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया की पहली तस्वीर सामने आई है। बिक्रम सिंह मजीठिया नए साल के मौके पर अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में माथा टेकते हुए दिखाई दिए। यूथ अकाली दल ने अपने फेसबुक पेज पर बिक्रम सिंह मजीठिया की तस्वीरें शेयर की हैं।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने यूथ अकाली दल के फेसबुक पेज को खंगाला और इन तस्वीरों को खोजने की कोशिश की। हमें 1 जनवरी को इन तस्वीरों के साथ कुछ और तस्वीरें उनके पेज पर प्रकाशित की हुई मिली। उन तस्वीरों के साथ पंजाबी भाषा में लिखा हुआ है, “बलिदान चला गया। उस समय तुम्हारे द्वारा एक सुखद विजय प्राप्त हुई।“

आपको बता दें कि इस पोस्ट को देख कर कई बड़े बड़े मीडिया ने इस बात की रिपोर्ट दी कि फरार होने के बावजूद बिक्रम सिंह मजीठिया इस वर्ष स्वर्ण मंदिर गए थे।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

हमें पीटीसी न्यूज़ के पेज पर 1 जनवरी 2021 को प्रसारित एक वीडियो मिला। इसके साथ जानकारी दी गई है कि शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और सांसद सुखबीर सिंह बादल और नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने नव वर्ष (2021) के अवसर पर स्वर्ण मंदिर में की पूजा की।

इस वीडियो और वायरल हो रही तस्वीरों में काफी मिलते- जुलते दृश्य दिखते है। आप नीचे देख सकते है।

नीचे दी गई तस्वीरों में आप देख लाल पगड़ी वाले शख्स को देख सकते है। वायरल हो रही तस्वीर और पीटीसी न्यूज़ ने प्रसारित किये हुए वीडियो में हम उस शख्स को देख सकते है।

इससे पता चलता है कि वायरल हो रही तस्वीरें अभी की नहीं, बल्की पुरानी है।

फेसबुक पर और कीवर्ड सर्च किया तो परिणाम में हमें शिरोमनी अकाली दल मजीठा नामक वैरिफाइड पेज पर एक पोस्ट मिला। उसमें दो तस्वीरें प्रकाशित की गई थी। उनमें से एक तस्वीर वायरल हो रही तस्वीर जैसी ही है। इस पोस्ट में लिखा है, शिरोमणि अकाली दल के महासचिव और पूर्व कैबिनेट मंत्री एस. बिक्रम सिंह मजीठिया ने अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में दर्शन किए।

आर्काइव लिंक

रोज़ाना स्पोक्समैन के पेज पर 1 जनवरी 2021 को इस भेंट की कुछ तस्वीरें प्रकाशित की हुई मिली। उनमें से एक तस्वीर को आप वायरल हो रहे पोस्ट में भी देख सकते है। इसके साथ दी गई जानकारी में लिखा है, सुखबीर बादल, हरसिमरत बादल व बिक्रम मजीठिया ने नववर्ष पर स्वर्ण मंदिर में दर्शन किए।

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीरों के साथ किया गया दावा गलत है। ये तस्वीरें पुरानी है। पिछले वर्ष नए साल के दिन बिक्रम सिंह मजीठिया अमृत्सर के स्वर्ण मंदिर में गये थे। ये तब की तस्वीरें है।

Avatar

Title:क्या ड्रग्स केस में फरार अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया नये वर्ष के दिन स्वर्ण मंदिर में आए थे?

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply