कन्नौज में जनसभा के दौरान अखिलेश यादव पर चप्पल नहीं फेंके गए, वीडियो गलत व झूठे दावे से वायरल… 

False Political

अखिलेश यादव पर फूलों की माला फेंकी गई थी, जिसे अब जूते और चप्पल फेंकने का बताया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें सपा प्रमुख अखिलेश यादव की रैली दिखाई दे रही है। अखिलेश इस बार कन्नौज लोकसभा सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। जिस कड़ी में अभी हाल ही में उनके द्वारा एक रैली आयोजित की गई थी। उसी रैली के एक वीडियो को प्रचारित करते हुए सोशल मीडिया यूज़र्स ने यह दावा किया है कि अखिलेश यादव पर लोगों द्वारा जूते और चप्पल फेकें गए।वायरल वीडियो इस कैप्शन के साथ शेयर हो रहा है…

कान्नौज.. टोटी चोर #अखिलेश का चप्पल जूता से स्वागत

फेसबुक पोस्टआर्काइव पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने जांच की शुरुआत में सम्बंधित कीवर्ड्स के साथ वीडियो के बारे में खोजना शुरू किया। परंतु हमें इस प्रकार की कोई मीडिया रिपोर्ट्स नहीं मिली, जिससे ये पता चले कि अखिलेश की हाल में कनौज में हुई रैली के दौरान उनपर जूते और चप्पल फेंके गए थें।  फिर हमने वायरल वीडियो को ध्यान से देखा तो यह पाया कि उनपर लोगों ने जूते चप्पल नहीं बल्कि फूलों की मालाएं फेंकी थीं।

अब हमें वायरल वीडियो एक इंस्टाग्राम यूजर vikashyadavauraiyawale की तरफ से पोस्ट किया हुआ मिला। यहां पर कैप्शन में लिखा गया है जय समाजवाद, जय अखिलेश।इस वीडियो में हमने यहीं देखा कि लोग उन पर फूलों की माला फेंक रहे हैं।

आर्काइव

इसके बाद हमें न्यूज़ 18 उत्तरप्रदेश के यूट्यूब चैनल पर 27 अप्रैल 2024 को अखिलेश की कनौज में हुई रैली से सम्बंधित वीडियो रिपोर्ट मिली। वीडियो के साथ दी गई जानकारी के अनुसार अखिलेश की इस रोड शो में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।यह भी बताया गया है कि अखिलेश का ये रोड शो 5 किमी तक लंबा रोड शो था। इसमें भी वीडियो को देखने पर यहीं पता चलता है कि, अखिलेश के स्वागत में फूलों की मालाएं फेंकी जा रही है।

हमें वीडियो के बारे में और खोजने पर एनडीटीवी की वेबसाइट पर अखिलेश के उसी रोड शो का एक वीडियो मिला। जिसमें शुरुआत में वो जहां पर मौजूद है वहां के दृश्य करीब से दिखाई दे रहे हैं। हमने यहां यह देखा कि वो जिस जगह से जनता को सम्बोधित कर रहे हैं वहां पर उनके पैर के पास फूल व मालाएं दिखाई दे रही है।

आर्काइव

इसी प्रकार के दृश्य हमें नवभारत टाइम्स के यूट्यूब पर अपलोड किये गए वीडियो में दिखाई दिए। वीडियो के साथ दी गई जानकारी में कहीं पर भी अखिलेश यादव के ऊपर जूते और चप्पल फेंकने की खबर नहीं लिखी गई है।

निष्कर्ष 

तथ्यों के जांच के पश्चात हमने यह पाया कि अखिलेश के वीडियो को उन पर जूते चप्पल फेंकने के गलत व भ्रामक दावे से वायरल किया गया है। असल में उनके कनौज में हुई जनसभा के दौरान लोगों द्वारा उन पर फूलों की मालाएं फेंकी गई थी। 

Avatar

Title:कन्नौज में जनसभा के दौरान अखिलेश यादव पर चप्पल नहीं फेंके गए, वीडियो गलत व झूठे दावे से वायरल…

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply