क्या मेनका गांधी और वरुण गांधी को कैबिनेट मंत्रालय न मिलने पर वे भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुये? जानिये सच…

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हालही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा केंद्रीय मंत्रीमंडल में फेरबदल किया गया था, जिसमें कई नये चेहरों को मंत्रालयों की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, इसी सन्दर्भ में सोशल मंचो पर भाजपा के दो राजनेताओं को लेकर ये दावा किया जा रहा है कि ईन दोनों ने इस फेरबदल के बाद कांग्रेस का दामन थाम लिया है, ये दावा मेनका गांधी और वरूण गांधी को लेकर किया गया है। 

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

वरूण संग मेनका ने थामा कांग्रेस का दामन सोनिया संग राहुल ने किया स्वागत।“

आपको बता दें कि इस दावे के साथ सोशल मंचों पर एक यूट्यूब वीडियो की लिंक भी वायरल हो रही है।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत व भ्रामक है। भा.ज.पा नेता वरूण गांधी और मेनका गांधी भा.ज.पा छोड़ कांग्रेस में शामिल नहीं हुये है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर किया, परिणाम में हमें ऐसा कोई समाचार लेख नहीं मिला जो इस बात की पुष्टि करता हो कि मेनका गांधी व वरूण गांधी भा.ज.पा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुये है।

इसके बाद फैक्ट क्रेसेंडो ने इस बात की पुष्टि करने के लिये कांग्रेस के प्रवक्ता विनीत पुनिया से संपर्क किया तो उन्होंने इस खबर को गलत बताते हुये कहा कि, “वायरल हो रही खबर सरासर गलत व भ्रामक है। अगर वरूण गांधी और मेनका गांधी भा.ज.पा छोड़ कांग्रेस में शामिल होते तो प्रेस कांफ्रेस होती, मीडिया द्वारा सभी को बताया जाता कि वे कांग्रेस में शामिल हो चुके है। ऐसी चीज़े चुपके से नहीं होती है।“

क्या है वीडियो में किया गया दावा?

आर्काइव लिंक

इसके बाद हमने ये जानने की कोशिश की कि वायरल हो रहे दावे के साथ संग्लित यूट्यूब लिंक में क्या दिखाया गया है।

इस वीडियो को इस वर्ष 11 जुलाई को नेशन देश की आवाज़ टी.वी पर प्रसारित किया गया था। वीडियो में शीर्षक में लिखा है, वरूण संग मेनका ने थामा कांग्रेस का दामन सोनिया संग राहुल ने किया स्वागत। इस वीडियो को सुनने पर हमने पाया कि वीडियो में भा.ज.पा नेता मेनका गांधी और वरूण गांधी को वर्तमान में केंद्रीय मंत्रालय के हुये फेरबदल में किसी भी मंत्रालय का प्रभार दिया नहीं गया है। इसके चलते ट्वीटर पर कई कांग्रेस नेताओं ने तंज कसते हुये मेनका गांधी व वरूण गांधी को कांग्रेस में शामिल होने की सलाह दी। आपको बता दें इस वीडियो में कही भी ऐसा नहीं बताया गया है कि भा.ज.पा नेता वरूण गांधी व मेनका गांधी कांग्रेस में शामिल हो गये है। आपको यह भी बता दें कि वरूण गांधी व मेनका गांधी के कांग्रेस में शामिल होने की बात इस वीडियो के शीर्षक में लिखी हुई है। इससे हम यह समझ सकते है कि, वीडियो का शीर्षक केवल एक अफवाह है और यह लोगों के बीच सनसनी फ़ैलाने व लोगों को इस लिंक पर क्लिक करने के उद्देश्य से लिखा गया है| 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत व भ्रामक है। भा.ज.पा नेता वरूण गांधी और मेनका गांधी भा.ज.पा छोड़ कांग्रेस में शामिल नहीं हुये है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. अभिनेता दिलीप कुमार के सात वर्ष पुराने वीडियो को उनके निधन के पहले का अंतिम वीडियो बता वायरल किया जा रहा है।

२. राहुल गांधी के सम्बन्ध में ABP न्यूज़ का न्यूज़ कार्ड फर्ज़ी है।

३. ई-कॉमर्स वेबसाइट ‘EBAY’ पर बेचे जा रहे ओलंपिक ‘वॉलंटियर पिन’ को भ्रामक दावे के साथ साझा किया जा रहा है|

Avatar

Title:क्या मेनका गांधी और वरुण गांधी को कैबिनेट मंत्रालय न मिलने पर वे भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुये?

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply