इस आदमी ने आर्थिक संकट के कारण सूरत में आत्महत्या नहीं की |

False National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२७ सितंबर २०१९ को “दीपक बिष्ट” नामक फेसबुक यूजर ने एक वीडियो पोस्ट किया, जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “सूरत के 51 वर्षीय व्यापारी पीयूष धीरज लाल पच्चीगर ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर पांचवीं मंजिल से कूद कर आत्महत्या की, सर पर चोट लगने से मौके पर ही मौत हो गयी, लाइव सुसाइड विडिओ” | २ मिनट २० सेकंड के इस वीडियो में हम एक आदमी को एक बिल्डिंग से कूदकर अपनी जान देते हुए देख सकते है | इस वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहा शख्स ५१ वर्षीय पीयूष पछीगर है जिसने सूरत की एक इमारत की पांचवीं मंजिल से आत्महत्या करने का प्रयास किया था क्योंकि वह वित्तीय संकट से गुजर रहा था |

फेसबुक लिंक | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुआत हमने इस वीडियो से जुड़ी ख़बरों को गूगल पर “51 year man suicide from building in Gujarat” कीवर्ड्स के माध्यम से ढूँढा, जिसके परिणाम से हमें २५ सितंबर २०१९ को टाइम्स ऑफ़ इंडिया द्वारा प्रकाशित खबर मिली | खबर के शीर्षक में लिखा गया है कि “गुजरात: गहना चोरी करते पकड़ा गया, होटल के छत से गिरकर हुई आदमी की मौत” | खबर के अनुसार इस आदमी ने वापी की एक दुकान से कथित तौर पर गहने चुराए थे और दुकान के मालिक को उसके ठिकाने के बारे में पता चलने के बाद गिरफ्तारी के डर से उसने इमारत से छलांग लगा दी | पुलिस द्वारा की गई प्रारंभिक जांच के अनुसार, पियूष पच्चीगर लोगों को धोखा देकर पैसे ऐंठता करता था, यह भी पता चला कि उसने एक साल पहले शहर की एक दुकान से १८००० रुपये के गहने चुराए थे | 

आर्काइव लिंक 

इसके पश्चात हमने वापी टाउन पोलिस स्टेशन के पी.एस.आई, रवि गामित के संपर्क किया, जिन्होंने हमें बताया कि “कथित तौर पर आत्महत्या करते हुए दिखने वाला पीड़ित व्यापारी नहीं बल्कि एक धोखेबाज़ था, वह बस लोगो के धोखा देने का ही काम करता था | वह पिछले ७-८ सालो से अपने घर से निकल गया था | सूरत में उसके खिलाफ अपराध करने के कारण मामला भी दर्ज किया गया है | व्यापारी ने आत्महत्या की खबर बस अफवाह है जिसे सोशल मंचो पर फैलाया जा रहा है | पीड़ित को उस होटल में एक आदमी मिला था जिसे उसने पहले ठगी की थी, उससे बचने के लिए वो छत पर चढ़ गया था जिसके चलते वो गिर गया था | सोशल मीडिया पर किये गये दावे गलत है क्योंकि यह व्यक्ति वित्तीय संकट के कारण आत्महत्या नही करने गया था |”

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर किये गये दावे गलत है क्योंकि इस व्यक्ति ने वित्तीय संकट के चलते आत्महत्या नही की थी |

Avatar

Title:इस आदमी ने आर्थिक संकट के कारण सूरत में आत्महत्या नहीं की |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •