क्या स्मृति ईरानी अमेठी के सरपंच को वोट के लिए ७५,००० रूपये देते हुए पकड़ी गई ? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

३ मई २०१९ को फेसबुक पर ‘YuvaDesh’ नामक एक यूजर द्वारा एक पोस्ट साझा किया गया है | पोस्ट में स्मृति ईरानी की एक फोटो दी गयी है | पोस्ट का विवरण इस प्रकार है – अमेठी में ‘नोट के बदले वोट’ मांगते पकड़ी गयी स्मृति ईरानी, सरपंच को दी ७५,००० रुपये की गड्डी  | चैकिदारन भी चोर है ऐसे कामों के लिए ही इतनी चोरी की???

इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि स्मृति ईरानी ने अमेठी के एक सरपंच को वोट के बदले ७५,००० की घूस दी और पकड़ी गयी | क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:  

ARCHIVED POST

ARCHIVED POST

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले इस तस्वीर के दावे को गूगल मे ‘अमेठी में ‘नोट के बदले वोट’ मांगते पकड़ी गईं स्मृति ईरानी, सरपंच को दी 75000 रुपए की गड्डी’ की वर्ड्स से ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

इस संशोधन में हमें ‘बोलता हिंदुस्तान’ और ‘National Herald’ द्वारा प्रसारित ख़बरें मिली जिसमे ‘National Herald’ ने यह उपरोक्त दावा किया है और ‘बोलता हिंदुस्तान’ ने ‘National Herald’ के ख़बर को साझा किया है | मगर इसके अलावा हमें और कोई भी ख़बर नहीं मिली | इससे हमें संदेह हुआ क्योंकि इतनी बड़ी ख़बर अगर सच होती तो बहुत सारे ख़बरों में होती | मगर हैरानी की बात यह है कि यह ख़बर सिर्फ़ यह दो न्यूज़ वेबसाइट पर ही है, जिसमे से ‘National Herald’ कांग्रेस का समर्थक अखबार है तो उसकी खबर पर आसानी से विश्वास नहीं किया जा सकता |

पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए लिंक्स पर क्लिक करें |

NationalHeraldIndia Post | Archived Link

BoltaHindustan Post | Archived Link

ट्विटर मे जब हमने इस बारे मे ढूंढा तो हमें ऐसे कई राजनितिक दल एक दुसरे पर इसी तरह के आरोप लगाते हुए दीखते है | हमने साझा किये जाने वाले दिनांक के कालक्रम से यह ट्वीट नीचे दिया है |

१ मई २०१९ को आम आदमी पार्टी द्वारा बीजेपी पर आरोप :

Archived Link

२ मई २०१९ को कांग्रेस पार्टी द्वारा बीजेपी पर आरोप  :

Archived Link

4 मई २०१९ को कांग्रेस पार्टी द्वारा बीजेपी पर आरोप :

Archived Link

इस संशोधन से हमें पता चलता है कि, इन सारे ट्वीट्स मे से एक भी दावा अभी तक साबित नहीं हुआ है और उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा भ्रम पैदा करने के लिए साझा किया गया है | २०१९ के लोक सभा चुनाव के दौरान ऐसे कई आरोप लगाये जा रहें है जिनमे से ज़्यादातर सिर्फ़ लोगों को भ्रमित करने के लिए साझा किये जा रहें हैं |

‘National Herald’ कांग्रेस का समर्थक अखबार है, तो इस अखबार मे उपरोक्त ख़बर का प्रकाशित किया जाना समझ मे आता है | ‘बोलता हिंदुस्तान’ ने भी ‘National Herald’ की ख़बर को साझा किया है और दोनों ख़बरों मे सिर्फ़ आरोप के बारे मे लिखा है मगर इस बात की सच्चाई की कोई पुष्टि अभी तक कहीं से भी नहीं हो पायी है |  

जांच का परिणाम : इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा की, “अमेठी में ‘नोट के बदले वोट’ मांगते पकड़ी गयी स्मृति ईरानी, सरपंच को दी ७५,००० रुपये की गद्दी |” सरासर गलत है | उपरोक्त फोटो में किये दावे को भ्रम पैदा करने के लिए साझा किया गया है |

Avatar

Title:क्या स्मृति ईरानी अमेठी के सरपंच को वोट के लिए ७५,००० रूपये देते हुए पकड़ी गई ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply