क्या आईपीएस ऑफिसर राजीव कुमार गिरफ़्तार किये गए ? जानिये सच |

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ मई २०१९ को फेसबुक पर ‘Singer Ratan Akela’ नामक एक यूजर द्वारा एक विडियो साझा किया गया है | पोस्ट का विवरण इस प्रकार है अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे दीदीके चाहिता आईपीएस ऑफिसर राजीव कुमार गिरफ्तार देखें विडियो |

इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि आईपीएस ऑफिसर राजीव कुमार गिरफ़्तार किये गए हैं | क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:  

FacebookPost | ARCHIVED LINK

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने जब विडियो को बारीकी से देखा तो विडियो मे पुलिस की गाड़ी का नंबर दिखा – उ.प्र. ६४ जी ०३८९

फिर हमने इस गाड़ी के नंबर को RTO द्वारा दिए गए गाड़ी नंबर का पंजीकरण पता लगाने वाले ऐप मे डाला तो पता चला कि यह पुलिस की गाड़ी सोनभद्र के पुलिस अधीक्षक के नाम से दर्ज है | इस बात से यह साफ़ पता चलता है कि उपरोक्त विडियो मे दिखायी गई गिरफ्तारी उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में घटी है और आईपीएस राजीव कुमार की गिरफ्तारी का नहीं हो सकता है, क्योंकि राजीव कुमार अभी कोलकाता में हैं |

फिर हमने youtube में ‘Sonbhadra’ की वर्ड्स देकर ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

इस संशोधन मे पाया गया पहला विडियो उपरोक्त विडियो से हुबहू मिलता-जुलता है | साथ ही जो दूसरा विडियो मिला, उसमे एक भोजपुरी अभिनेत्री अपना बयान देते दिखी | दोनों विडियो २९ मई २०१९ को youtube पर अपलोड किया गया है |

“SONBHADRA ME BHOJPURI ACTRESS KE SATH BATSLUKI KRNA WALA MAUKE PR ARREST HUA ..”

“SONBHADRA ME AAYE BHOJPURI ACTERESS KE SATH .. ROBERTSGANG KE EK HOTEL ME JOR JABARDASTI. HUA.”

फिर हमने गूगल मे ‘man arrested in sonbhadra district of uttar pradesh+bhojpuri actress’ की वर्ड्स से जब ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

‘Indiatoday’ और ‘Hindustantimes’ द्वारा २६ मई २०१९ को दी गयी ख़बर में इस घटना के बारे मे लिखा है | इस ख़बर से हमें पता चलता है कि आरोपी का नाम पंकज यादव है और विपत्ति ग्रस्त महिला का नाम रीतू सिंह है जो की भोजपुरी सिनेमा की अभिनेत्री है | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें |

IndiatodayPost | ArchivedLink

HindustantimesPost | ArchivedLink

फिर हमने गूगल मे ‘rajeev kumar’ की वर्ड्स से जब ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

‘TOI’ द्वारा दी गयी ३१ मई २०१९ की इस ख़बर मे लिखा है कि कोलकाता उच्च न्यायालय की अवकाश पीठ ने ३० मई २०१९ को फैसला दिया है कि राजीव कुमार को १ महीने तक गिरफ़्तार नहीं किया जाएगा मगर वो अपने घर से भी बाहर नहीं निकल सकेंगे | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

TOI Post | ArchivedLink

इन संशोधन से इस बात की पुष्टि होती है कि उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा लोगों को भ्रमित करने के लिए साझा किया जा रहा है |

जांच का परिणाम : इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा की, “आईपीएस ऑफिसर राजीव कुमार गिरफ़्तार किये गए हैं |” ग़लत है | उपरोक्त पोस्ट मे साझा विडियो सोनभद्र मे एक भोजपुरी अभिनेत्री रीतू सिंह पर हमला करने वाले पंकज यादव के गिरफ्तारी का है |

Avatar

Title:क्या आईपीएस ऑफिसर राजीव कुमार गिरफ़्तार किये गए ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •