लव जिहाद को लेकर वायरल हो रही तस्वीरें व दावे असंबंधित व गलत हैं।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Love Jihad.jpg

अंतरधार्मिक विवाह व लव जिहाद को लेकर अकसर सोशल मंचो पर नफरत व धार्मिक बहिष्कार की ख़बरें आम रहीं है, गैर धार्मिक प्रेम सम्बन्धों को लेकर कई बार कुछ ऐसे दावे वायरल किये जाते रहें है जो या तो सरासर गलत होते हैं या फिर भ्रामक, इन दिनों सोशल मंचो पर लव जिहाद को लेकर कुछ तस्वीरें साझा की जा रहीं हैं जो चर्चा का विषय बनी हुईं हैं, दावे के अनुसार एक हिन्दू लड़की ने प्रेम के वशीभूत एक मुस्लिम लड़के से शादी कर ली थी, शादी के कुछ दिनों बाद ही इस लड़की की लाश को एक सूटकेस में पाया गया था।  

वाईरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

लव #जिहाद के बारे में कितना समझाया जाता है कितनी सारी पोस्ट डाली जाती है कितना रिक्वेस्ट किया जाता है फिर भी नहीं समझ आती, अब देख लो इसका अंजाम, #अब्दुल के प्रेम में पड़ी लडकिया सूटकेस में पाई जाती हैतुम लोग इसी लायक हो, राम राम।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Love Jihad1.jpg

 फेसबुक | आर्काइव लिंक

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Dehradun case1.jpg

आर्काइव लिंक

हालांकि हम ये स्पष्ट कर दें कि तस्वीरों में दिख रही लड़की जीवित है व अपने पति के साथ सुखी है, इस पोस्ट की पूर्ण सच्चाई व पड़ताल को जानने के नीचे पढ़े। 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने कीवर्ड के माध्यम से ये जानने की कोशिश की कि क्या हाल ही में ऐसी कोई घटना घटी है जहाँ किसी लड़की की लाश सूटकेस में बरामद हुई है, परिणाम में हमें जुलाई माह में प्रकाशित कुछ ख़बरें मिलीं जिनमें उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में एक लड़की की लाश सुटकेस में मिले का उल्लेख किया गया है, टाईमस् ऑफ इंडिया के 27 जुलाई 2020 को प्रकाशित ख़बर के अनुसार लड़की की शिनाख्त नहीं हो पाई है। इस ख़बर को मिरर नाउ ने भी रिपोर्ट किया था।

आर्काइव लिंक | आर्काइव लिंक  

तत्पश्चात हमने गाज़ियाबाद शहर के एस.पी अभिषेक वर्मा से संपर्क किया तो उन्होंने भी यही कहा कि मृत ल़ड़की की पहचान की जाँच अभी भी जारी है। उन्होंने हमें बताया कि, 

वाईरल पोस्ट में पुलिस से घिरी हुई सुटकेस में लाश की तस्वीर गाज़ियाबाद की ही है। लगभग एक महीने पहले एक लड़की की लाश सुटकेस में पड़ी हुई मिली परंतु उस लड़की की पहचान अभी तक नहीं मिल पाई है और उसकी जाँच अभी भी जारी है।“

हमारे द्वारा एस.पी अभिषेक वर्मा को इस लाश के साथ वायरल हो रही अन्य तस्वीरें भेजने पर उन्होंने स्पष्ट किया कि तस्वीर में दिख रही लड़की व सूटकेस में पाई गयी मृत लड़की अलग अलग हैं, दोनों में कोई समानता नहीं है, इसके अलावा उनके द्वारा हमें मृत लड़की की कुछ तस्वीरें भेजी गयीं और ये भी बताया गया कि इस मृत लड़की की शिनाख्त के लिए उनकी टीम द्वारा सूटकेस में मिली लड़की के मृत शरीर की तस्वीरों को सोशल मंचों पर फॉर्वर्ड किया जा रहा है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Dehradun case.jpg

तत्पश्चात हमने मृत लड़की की तस्वीर की तुलना वाईरल हो रही लड़की की तस्वीर से की तो हमें उन दोनों तस्वीरों में कोई समानता नज़र नहीं आई।

इसके पश्चात हमने उपरोक्त वायरल तस्वीरों की अन्य तस्वीरों को रीवर्स इमेज सर्च के माध्यम से ढूंढकर जाँच की तो हमें एक फेसबुक के ग्रुप से यह जानकारी मिली की तस्वीरों में दिख रही लड़की गोरखपुर चौक, देहरादून (उत्तराखंड) की रहने वाली है। इसको ध्यान में रखते हुए हमने देहरादून की एस.पी.  श्वेता चौबे से संर्पक किया उन्होंने लड़की की हत्या व सुटकेस में लाश मिलने वाले दावे को नकार दिया और हमें बताया कि, 

देहरादून में हाल-फिलहाल में ऐसी कोई घटना नहीं घटी है जहाँ पर लव जिहाद के चलते किसी लड़की की हत्या कर उसकी लाश को सुटकेस में डाल कर फेंक दिया हो।“ 

देहरादून पुलिस ने हमें यह भी बताया की तस्वीर में दिख रहीं पुलिस उत्तराखंड की नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश की है। उन्होंने जानकारी दी की उत्तराखंड की पुलिस की टोपी नीले रंग की होती है। 

इसके पश्चात अधिक जाँच करने पर हमें पता चला कि वायरल तस्वीर में दिख रहीं लड़की देहरादून के पटेलनगर पुलिस स्टेशन के अंतरगत गोरखपुर चौक क्षेत्र में रहती है। तत्पश्चात हमने पटेलनगर क्षेत्र के एस.एच.ओ प्रदीप बिष्ट से संपर्क किया तो उन्होंने इस बात की पुष्टि की कि तस्वीर में नज़र आ रहीं लड़की जिंदा है और देहरादून की ही रहने वाली है। 

इसके बाद उन्होंने पटेलनगर पुलिस स्टेशन की एस. आई मोनिका मनराल से संपर्क करवाया। मोनिका मनराल ने हमें तस्वीर में दिख रहीं लड़की का नाम स्वीटी चौहान बताया और ये भी बताया कि स्वीटी के विवाह के बाद उसका नाम स्वीटी चौहान पाशा हो गया है, स्वीटी के पति का नाम एहकाम एलियास मोहम्मद आदिल पाशा है। एस. आई मोनिका मनराल ने हमें स्वीटी चौहान पाशा के विवाह का प्रमाणपत्र भी प्राप्त कराया व हमें स्वीटी चौहान पाशा से संपर्क करने में मदद की। 

इसके पश्चात हमनें स्वीटी चौहान पाशा से संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि, 

वाईरल पोस्ट में इस्तेमाल की जा रही तस्वीरें मेरी हैं और मेरा सुटकेस में मिली लाश की खबर से कोई संबन्ध नहीं है। मेरे साथ ऐसी कोई भी घटना नहीं हुई है। मैं एकदम सही सलामत व स्वस्थ हूँ।“  

इसके उपरांत उन्होंने इस बात की भी पुष्टि की कि वायरल हो रहीं तस्वीर उनकी और उनके पति की ही है और उन्होंने उनके पति का नाम एहकाम एलियास मोहम्मद आदिल पाशा बताया।

स्वीटी चौहान पाशा मे हमें उनके आधार कार्ड की तस्वीर प्राप्त कराई, उन्होंने ने हमें यह भी बताया की उनका नाम सुरभी उर्फ स्वीटी चौहान पाशा है, इसके अलावा उन्होंने हमें उनकी और उनके पति की वर्तमान की तस्वीर भी भेजी है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Dehradun case2.jpg

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है। वाईरल हो रही तस्वीर देहरादून में रहने वाली सुरभी उर्फ स्वीटी चौहान पाशा की है और वह जिंदा एवं स्वस्थ है। पुलिस से घिरी हुई सुटकेस में मिली लाश की तस्वीर उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद से है और उसका स्वीटी से कोई संबन्ध नहीं है।

Avatar

Title:लव जिहाद को लेकर वायरल हो रही तस्वीरें व दावे असंबंधित व गलत हैं।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply