चीन में बनी अमूल बटर के नाम से वायरल हुआ फ़र्ज़ी पोस्ट। 

Consumer Safety Fact Check False Social

वीडियो में दिखाए गए अमूल बटर के दोनों पैकेट असली हैं और अमूल द्वारा भारत में निर्मित हैं।

बच्चों की सबसे पसंदिता अमूल बटर को लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट काफी तेजी से वायरल हो रही है। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि नकली अमूल बटर उत्पाद बाजार में आ गए हैं। पोस्ट के साथ एक वीडियो है जो मूल पैक और कथित रूप से चीनी निर्मित डुप्लीकेट पैक के बीच महत्वपूर्ण अंतर को समझाता है।

वायरल वीडियो में एक व्यक्ति को अमूल मक्खन के दो अलग-अलग पैकेटों की तुलना करते हुए देखा जा सकता है। यह दिखाते हुए कि पैकेटों में से एक में गोलाकार हरे निशान (शाकाहारी उत्पादों को इंगित करने वाला निशान) नहीं है, वह व्यक्ति कहता है कि जिन पैकेटो पर हरे रंग का निशान नहीं है ये “डुप्लिकेट” और “मेड इन चाइना” है।

याने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे दावे अनुसार अमूल बटर के जिन पैकेट पर हरे रंग का शाकाहारी होने का निशान नहीं है वो फर्जी या चीन में बने हुए डुप्लीकेट मक्खन है।

पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि “डुप्लीकेट मेड इन चाइना अमूल बटर बाजार में आ गया है। अमूल बटर खरीदने से पहले सभी इस वीडियो को जरूर देखें, अमूल बटर खरीदते समय सावधान रहें।”

फेसबुक पोस्टआर्काइव लिंक 

ये वीडियो फेसबुक पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है।

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात वायरल पोस्ट से संबंधित कीवर्ड सर्च किया जिसके परिणाम से हमें अमूल कंपनी द्वारा प्रकाशित एक ट्वीट मिला जिसे 15 फरवरी 2023 को अपलोड किया गया था। इस पोस्ट में लिखा गया है कि वीडियो में दिख रहे अमूल बटर के पैकेट भारत में बने हुए अमूल के ही प्रोडक्ट है। भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण की सलाह के अनुसार, सभी नए डेयरी उत्पादों को पैक के सामने शाकाहारी लोगो दिखाना चाहिए। इसीलिए वीडियो में नया और पुराना बटर दिखाया गया है।”

आगे फैक्ट क्रेसेंडो ने अमूल के कस्टमर केयर से संपर्क किया जहाँ से हमें बताया गया कि “वायरल वीडयो के माध्यम से किया गया दावा सरासर गलत है, फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया के दिशानिर्देशों के मुताबिक, सभी नए डेयरी उत्पादों के सामने वाले हिस्से पर वेज लोगो (शाकाहारी उत्पाद को बताने वाले हरा निशान) का होना अनिवार्य है। इसीलिए वीडियो में दिख रहे दोनों बटर का पैकेट अमूल का ही है सिर्फ फ़रक इतना है कि वीडियो में नया और पुराना पैकेट दोनों ही दिखाकर एक फ़र्ज़ी दावा किया जा रहा है। दोनों मक्खन ही अमूल ने भारत में बनाया है। इसका स्पष्टीकरण अमूल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर भी दिया है और वीडियो बनाने वाले श्रीनगर के एक व्यक्ति को कानूनी नोटिस भी भेजा है। हम सोशल मीडिया पर इस गलत वीडियो को शेयर करने वालें लोगों से निवेदन करते है कि ऐसे फर्जी पोस्ट हो शेयर न करे।”

आगे हमें अमूल द्वारा फेसबुक पर जारी की गयी स्पष्टीकरण मिला जिसमे लिखा गया है कि “वीडियो क्लिपिंग अमूल बटर के पुराने पैक और नए पैक के बीच तुलना दिखाती है और इसका उपयोग गलत जानकारी बनाने और उपभोक्ताओं के बीच भय और चिंता फैलाने के लिए किया गया है।

निष्कर्ष:

तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने वायरल पोस्ट के साथ किये गये दावे को गलत पाया है। अमूल ने एक बयान जारी कर स्पष्ट किया है कि वायरल वीडियो मनगढ़ंत है और “वीडियो में दिखाए गए अमूल बटर के दोनों पैकेट असली हैं और अमूल द्वारा भारत में निर्मित हैं।”

Avatar

Title:चीन में बनी अमूल बटर के नाम से वायरल हुआ फ़र्ज़ी पोस्ट। 

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False