फर्जी स्क्रीनग्रैब के माध्यम से म.प्र के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को लेकर भ्रामक ख़बर वायरल की जा रही है ।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में मध्य प्रदेश की सियासत में चल रही राजनीतिक हलचलें काफी सुर्खियों में है और इन सब के बीच सोशल मंचों पर इन हलचलों को लेकर भविष्य में आने वाली राजनीतिक परिस्थितियों का आंकलन सोशल मीडिया उपभोक्ताओं द्वारा किया जा रहा है, वर्तमान राजनीतिक गहमागहमी के बीच सोशल मंचो पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, तस्वीर में हम ए.बी.पी न्यूज़ का बुलेटिन के एक स्क्रीनग्रैब को देख सकतें हैं, जिसमें लिखा है कि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा व उनके साथ भा.ज.पा के 30 विधायक सरकार से बागी हो गये है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा 30 विधायकों के साथ बागी हुए। लगता है मध्यप्रदेश में भी खेला हो।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इस खबर को इंटरनेट पर काफी तेज़ी से साझा किया जा रहा है।

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत है। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा व उनके साथ तीस विधायकों का सरकार से बागी होने वाली खबर फर्जी है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च की, परिणाम में हमें ऐसा कोई विश्वसनीय समाचार लेख नहीं मिला जो इस बात की पुष्टि करता हो कि मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा व उनके साथ भा.ज.पा के तीस विधायक सराकर से बागी हो गये है। 

वायरल हो रही तस्वीर में आप ए.बी.पी न्यूज़ का चिन्ह देख सकते है, व इसको ध्यान में रखते हुये हमने ए.बी.पी न्यूज़ की वेबसाइट को खंगाला व हमें वहाँ ऐसी कोई खबर या रिपोर्ट देखने को नहीं मिली, जो उपरोक्त दावे की पुष्टि करता हो।

तदनंतर अधिक जाँच करने पर हमें गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा द्वारा इस वर्ष 6 जून को किया गया एक ट्वीट मिला जिसमें उन्होंने वायरल हो रहे दावे को गलत ठहराते हुये यह स्पष्ट कर दिया कि वे सरकार से बागी नहीं हुये है व शिवराज सिंह चौहान ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहेंगे, इस ट्वीट के साथ ही उनका एक स्पष्टीकरण वीडियो भी साथ संग्लित है।। 

“मध्यप्रदेश में भा.ज.पा की सरकार और संगठन को लेकर सोशल मीडिया पर चल रही सभी तरह की खबरें पूरी तरह निराधार, भ्रामक और असत्य हैं । भा.ज.पा शिवराज चौहान जी और वी.डी शर्मा जी के नेतृत्व में संगठित और एकजुट है। शिवराज जी प्रदेश के मुख्यमंत्री थे, मुख्यमंत्री हैं और मुख्यमंत्री रहेंगे।“ 

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि न्यूज़ चैनल का स्क्रीनग्रैब फर्जी है। वायरल हो रही खबर सरासर गलत है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. क्या इस वर्ष 18 जून से भारत कोरोना मुक्त होने वाला है? जानिये सच…

२. यू.पी के गोंडा के डी.एम द्वारा एक शख्स को उनके पीठ पर हाथ रखने के लिये लगायी गई फटकार के वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

३. इंटरनेट पर संघीय सरकार द्वारा प्रदान किये जाने वाले कोविड-19 रिलीफ फंड के लिये आवेदन हेतु दिया गया लिंक फर्जी है।

Avatar

Title:फर्जी स्क्रीनग्रैब के माध्यम से म.प्र के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को लेकर भ्रामक ख़बर वायरल की जा रही है ।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply