सोशल मंचो पर वायरल मुंबई में १ मई २०२१ से लागू लॉकडाउन सम्बंधित नये दिशानिर्देशों की गाइडलाइन फर्जी है ।

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

महाराष्ट्र सरकार ने बढ़ते कोरोना संक्रमण व उसकी वजह से बढ़ती मृत्यु दर को ध्यान में रखते हुए पूरे राज्य में इस वर्ष 30 अप्रैल तक काफी कठोर नियम लागू किये थे व इस अवधी के बाद इन नियमों को इस वर्ष 15 मई तक बढ़ाने के आदेश दिये है। इसी सम्बन्ध में सोशल मंचों पर एक तस्वीर काफी तेज़ी से वायरल की जा रही है। उस तस्वीर में आप बी.एम.सी का चिन्ह देख सकते है व इस तस्वीर में 1 मई से लागू किये जाने वाले दिशानिर्देश व कुछ नियम लिखे हुए है। वायरल हो रही तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में दिये गये दिशानिर्देश मुंबई शहर के लिये है।

तस्वीर के शीर्षक में लिखा है, 

मुंबई के लिये नये दिशानिर्देश।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही तस्वीर फर्ज़ी है। बी.एम.सी ने मुंबई के लिए इस वर्ष 1 मई से लागू किये जाने वाले ऐसे कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये है। जो भी नियम राज्य सरकार ने जारी किये है उन्ही का पालन मुंबई में भी किया जायेगा।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर की, हमें इंटरनेट पर ऐसा कोई समाचार लेख नहीं मिला जो उपरोक्त तस्वीर व उसमें लिखे गये दिशानिर्देशों की पुष्टि करता हो। 

इसके पश्चात हमने बी.एम.सी की आधिकारिक वैबसाइट को खंगाला तो वहाँ भी हमें वायरल हो रहे दिशानिर्देश जैसे कोई भी आदेश जारी किये हुये नज़र नहीं आया।

तदनंतर फैक्ट क्रेसेंडो ने बी.एम.सी के डिप्टी पी.आर.ओ तानाजी.एच.कांबले से संपर्क किया व उनसे वायरल हो रही तस्वीर की सच्चाई जानने की कोशिश की, उन्होंने हमें बताया कि, “वायरल हो रही खबर सरासर गलत व भ्रामक है। बी.एम.सी ने मुंबई के लिये ऐसे कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये हैं। इस वर्ष 1 मई से 15 मई तक के लिये लागू किये गये कड़क नियम, जो राज्य सरकार ने जारी किये है वही मुंबई में भी लागू किये गये है। 

इसके बाद तानाजी कांबले ने हमें यह भी बताया कि बी.एम.सी ने इस फर्ज़ी तस्वीर का स्पष्टिकरण अपने ट्वीटर हैंडल पर दिया है।

हमने बी.एम.सी के ट्वीटर हैंडल को खंगाला व पाया कि उन्होंने इस वर्ष 30 अप्रैल को एक ट्वीट किया था जिसमें वायरल हो रही तस्वीर को फर्ज़ी बताते हुए उसे प्रकाशित किया था। ट्वीट के शीर्षक में लिखा है, “सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह छवि फेक  है। बी.एम.सी ने ऐसे कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये हैं। राज्य सरकार द्वारा लॉकडाउन के लिये जारी किये गये सभी दिशानिर्देश प्रभावी रहेंगे। हम नागरिकों से अनुरोध करते हैं कि वे अफवाहों पर विश्वास न करें और इस तरह की जानकारी को आगे न बढ़ाने बढ़ाये व लोगों से इसे आगे न बढ़ाने का आग्रह करें।“

आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि उपरोक्त दावा गलत है। वायरल हो रही तस्वीर फर्ज़ी है। बी.एम.सी ने मुंबई के लिए इस वर्ष १ मई से लागू किये जाने वाले ऐसे कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये है। जो भी नियम राज्य सरकार ने जारी किये है उन्ही का पालन मुंबई में भी किया जायेगा।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. राजस्थान सरकार के नाम से अंतिम संस्कार को लेकर जारी सर्कुलर फर्जी है।

२. CLIPPED VIDEO: तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार कौशानी मुख़र्जी के वीडियो को सन्दर्भ से बाहर फैलाया जा रहा है|

३. गुजरात के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पर प्रतिबंध वाली ख़बरें गलत व भ्रामक है|

Avatar

Title:सोशल मंचो पर वायरल मुंबई में १ मई २०२१ से लागू लॉकडाउन सम्बंधित नये दिशानिर्देशों की गाइडलाइन फर्जी है ।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply