क्या ये वीडियो जिसमें कथित छात्र बेरहमी से एक युवक को पीट रहें हैं, केन्द्रीय विद्यालय का है? जानिये सच।

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२३ जुलाई २०१९ को फेसबुक पर ‘Rattan Bhist’ नामक एक फेसबुक यूजर द्वारा एक वीडीयो साझा किया गया था, जिसमें कुछ युवक एक व्यक्ति को बहुत पीट रहे हैं, पोस्ट के विवरण में लिखा है – “केन्द्रीय विद्यालय के बच्चे है इस वीडियो को वायरल करना पड़ेगा तभी ये बच्चे गिरफ्त में आ सकते हैं | अमानवीय कृत्य | पुलिस संज्ञान ले। जो भी देखे इसे वायरल करे ताकि टीचर, बच्चे व् अभिभावक सचेत हो जावे | दोस्तों इन्सानीयत के नाते आपसे हाथ जोड़कर विनती है की यह वीडियो ज्यादा से ज्यादा गृपो में भेजना है कल शाम तक हरेक न्यूज चैनल में आना चाहिए |” पोस्ट के द्वारा ये दावा किया जा रहा है कि – यह वीडियो केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों का है जो एक युवक को बेरहमी से मार रहें है | क्या सच में ऐसा हुआ है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

अनुसंधान से पता चलता है कि…

उपरोक्त वीडियो में कही जा रही बोली हमें हिंदी से अलग लगी, बारीकी से जाँच करने पर हमें ये स्पष्ट हुआ कि ये युवक तेलुगु भाषा में बात कर रहें हैं | हमने गूगल पर ‘boy attacked by college students in andhra pradesh’ कीवर्ड्स को ढूंढा, जिसपर हमें ‘साक्षी’ नामक आंध्र प्रदेश मे स्थित एक समाचार पत्रिका की वेबसाइट मिली।

इस वेबसाइट में प्रकाशित २९ जून २०१९ की ख़बर के अनुसार यह वीडियो आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में एक कला महाविद्यालय का है | पीड़ित का नाम शिवय्या बताया गया है और यह इस महाविद्यालय का छात्र नहीं है | पीड़ित का मित्र राजेश इस महाविद्यालय में B.Com का छात्र है और शिवय्या उससे मिलने इस महाविद्यालय में आते रहता था, इसी दौरान उसे इस महाविद्यालय के एक महिला छात्रा से प्यार हो गया | इस पर इस महिला छात्रा का एक मित्र – भारत ने शिवय्या को २५ जून २०१९ को धमकाने के लिए महाविद्यालय में मिलने के लिए बुलाया था। शिवय्या के महाविद्यालय में पहुंचते ही भारत अपने २५ दोस्तों के साथ उसे मारने लगा | यह वीडियो उसी वक्त लिया गया है | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

SakshiPost | ArchivedLink

इसके बाद हमने अनंतपुर के 3 Town पुलिस चौकी के इंस्पेक्टर से इस बारे में पुछा और उन्होंने हमें कहा कि (हिंदी में अनुवादित), “यह घटना अनंतपुर आर्ट्स कॉलेज का है और २५ जून २०१९ को घटी थी, पीड़ित और अपराधी इस कॉलेज के छात्र नहीं थे | आपसी बैर और प्यार के मामले में इन युवकों ने शिवय्या को बेरहमी से मारा | इस वारदात पर हमने आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है और उनपर उचित धाराओं में केस भी दर्ज किया है | पीड़ित इलाज के पश्चात अब स्वस्थ  हालत में है | मगर इस घटाना का केंद्रीय विद्यालय से कोई भी संबंध नहीं है |” 

फिर हमने अनंतपुर के केंद्रीय विद्यालय में संपर्क किया और हमें बताया गया कि उनके विद्यालय में ऐसी कोई भी वारदात नहीं घटी है | 

इन आधिकारिक स्पष्टीकरणों से यह बात स्पष्ट होती है कि उपरोक्त पोस्ट मे साझा किया गया वीडियो केंद्रीय विद्यालय का नहीं है | यह घटना अनंतपुर के आर्ट्स कॉलेज की है और २५ जून २०१८ को यह वारदात घटी थी, जिसपर पुलिस ने सारे अपराधियों को गिरफ़्तार भी कर लिया है |

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ‘यह वीडियो केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों का है जो एक युवक को बेरहमी से मार रहें है |’ ग़लत है |

Avatar

Title:क्या ये वीडियो जिसमें कथित छात्र बेरहमी से एक युवक को पीट रहें हैं, केन्द्रीय विद्यालय का है? जानिये सच।

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply