क्या मंदसौर में अंजुमन स्कूल के बच्चों नें स्कूल से निकलते ही दिए ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे ? जानिये सच |

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१७ जुलाई २०१९ को फेसबुक पर ‘Dr. Ashu Didi’ नामक एक फेसबुक यूजर द्वारा एक वीडीयो साझा की गयी है, जिसमे हम कुछ छात्र नारे लगते हुए स्कूल से बाहर निकलते दिखते हैं | पोस्ट के विवरण में लिखा है – “मंदसौर में अंजुमन स्कूल से निकलते ही पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवाए | नाग बनने से पहले सपूलो के फन कुचलना जरुरी है |” इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि ‘मंदसौर में अंजुमन स्कूल के बच्चों को ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाना सिखाया गया है |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

संशोधन से पता चलता है कि…

इस विडियो को पहली बार सुनने से ऐसा लगता है कि सच में बच्चे ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ जैसा कुछ बोल रहें है | मगर गौर से सुनने पर सुनाई देता है कि यह बच्चे सिर्फ़ ‘जिंदाबाद, जिंदाबाद’ के नारे लगा रहें हैं व पीछे से किसी बड़े व्यक्ति की आवाज़ सुनाई देती है जो ‘शब्बीर साब’ के नारे लगा रहा है |

फिर हमने किये गए दावे के बारे में गूगल पर ‘pakistan zindabad rally by school kids’ की वर्ड्स से ढूंढा | हमें मिले परिणाम आप नीचे देख सकतें हैं |

इस संशोधन में हमें ‘NewIndiaExpress’ द्वारा १७ जुलाई २०१९ को प्रसारित ख़बर मिली | इस ख़बर के मुताबिक यह स्कूल मध्य प्रदेश में भोपाल के मंदसौर जिल्हा में स्थित है | इस ख़बर के मुताबिक, इस स्कूल के प्राचार्य को उनके पद से गमन का आरोप लगाकर निकालने की बात जानने पर वहां के छात्रों ने इस बात का विरोध करते हुए ‘शबीर साब, जिंदाबाद !’ ‘शाबिर सर, जिंदाबाद |’ के नारे लगाये | इन नारों के विडियो को गलत विवरण से लोगों में भ्रम पैदा करने के लिए फैलाया गया | यह कहा गया कि इस स्कूल के बच्चें ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगा रहें हैं |  पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

NewindianexpressPost | ArchivedLink

जब हमने गूगल पर ‘mandsaur’ की वर्ड्स से ढूंढा, तो हमें NDTV द्वारा दी गयी ख़बर भी मिली |

NDTV द्वारा १७ जुलू २०१९ को प्रसारित ख़बर में लिखा है कि इस घटित परिस्थिति को गलत विवरण से फैलाके भ्रम पैदा करने के लिए पुलिस ने ३०-३५ लोगों को चिन्हित कर लिया है | इन लोगों ने मध्य प्रदेश के एक स्कूल के बच्चों द्वारा उनके प्राचार्य के लिए लगाए गए ‘शाबिर साब, जिंदाबाद’ के नारे को ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ के नारों में बदलकर सोशल मीडिया प्लात्फोर्मों पर वाइरल कर दिया था | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

NDTVIndiaPost | ArchivedLink

Khabar.ndtvPost | ArchivedLink

इन संशोधन से हमें साफ़ पता चलता है कि उपरोक्त पोस्ट में साझा वीडियो में स्कूल के बच्चे ‘पकिस्तान ज़िन्द्बाद’ के नारे नहीं, बल्कि ‘शाबिर साब, जिंदाबाद’ के नारे लगा रहें हैं | इस विडियो को गलत विवरण के साथ साझा कर लोगों में भ्रम और हिंसा फ़ैलाया जा रहा है | जिन लोगों ने इस विडियो को गलत विवरण से वाइरल किया, पुलिस ने उन लोगों को चिन्हित कर लिया है व उन पर सक्त कारवाही करेगी | 

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ‘मंदसौर में अंजुमन स्कूल के बच्चों को ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाना सिखाया गया है |’ ग़लत है |

Avatar

Title:क्या मंदसौर में अंजुमन स्कूल के बच्चों नें स्कूल से निकलते ही दिए ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे ? जानिये सच |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1 thought on “क्या मंदसौर में अंजुमन स्कूल के बच्चों नें स्कूल से निकलते ही दिए ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे ? जानिये सच |

Comments are closed.