२०१४ को प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा अपने राजनीतिक दल के अनुयायी के साथ दीवाली के जश्न की तस्वीरों को वर्तमान का बताकर फैलाया जा रहा है |

False International Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२७ अक्टूबर २०१९ को फेसबुक पर ‘Mahendra Bant द्वारा किये गये पोस्ट में दो तस्वीरें साझा की गयी है | पोस्ट के विवरण में लिखा है कि, “पाकिस्तानी हिंदुओं के साथ दीवाली मनाते पाकिस्तान के प्रधानमंत्री #इमरान_ख़ान | याद रहे हमारे यहां हिंदुस्तान मे राष्ट्रपति भवन में ईद मनाना बन्द हो चुका है |” इस पोस्ट में यह दावा किया जा रहा है कि – ‘वर्तमान में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान हिंदुओं के साथ दीवाली मना रहे हैं, जब राष्ट्रपति भवन में ईद मनाना बंद हो चुका है |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले उपरोक्त पोस्ट मे साझा तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज सर्च पर ढूंढा, तो हमें ११ नवम्बर २०१५ को Tribune.com.pk नामक एक समाचार वेबसाइट पर इस तस्वीर के साथ एक ख़बर प्रकाशित मिली | इस ख़बर के मुताबिक पाकिस्तान के विख्यात लोग ट्विटर के ज़रिये सबको दीवाली  की शुभकामनाएं देते हुए दिखे, जिसमे इमरान खान ने इस तस्वीर को साझा करते हुए सबको दीवाली की बधाइयां दी थी |

Tribune.com.pkPost | ArchivedLink

प्रकाशित ख़बर में इमरान खान द्वारा किया गया ट्वीट ११ नवम्बर २०१५ को किया गया था | २०१५ की इस ट्वीट में उन्होंने यह तस्वीर साझा करते हुए कहा कि यह तस्वीर एक साल पुरानी है और बहुत यादगार है, जब वे धरने के दौरान हिंदुओं  के साथ मिलकर दीवाली मना रहे थे |

2015 Tweet | ArchivedLink

इसके अलावा Lahoreworld.com नामक एक वेबसाइट में इस तस्वीर के साथ २० अक्टूबर २०१४ को प्रसारित ख़बर के मुताबिक पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने इस्लामाबाद में अपने पार्टी अनुयायियों के साथ दीवाली  मनाई |

LahoreworldPost | ArchivedLink

इसके बाद जब हमने प्रधानमंत्री इमरान खान के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट में ढूंढा, तो हमें २६ अक्टूबर २०१९ को उनके द्वारा दीवाली  की शुभकामनाये देते हुए एक ट्वीट मिला |

2019 Tweet | ArchivedLink

२७ अक्टूबर २०१९ को Khaleejtimes नामक एक समाचार वेबसाइट में प्रकाशित ख़बर के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने ट्विटर के माध्यम से उनके देश में मौजूद हिंदुओं को दीवाली की शुभकामनाओं दी हैं |

KhaleejtimesPost | ArchivedLink

इसके बाद जब हमने गूगल पर ‘eid celebration in rashtrapati bhavan’ कीवर्ड्स को ढूंढा, तो हमें ०६ जून २०१८ को ZeeNews द्वारा प्रकाशित एक ख़बर मिली, जिसके अनुसार राष्ट्रपति भवन में किसी भी प्रकार के त्यौहार मनाये नहीं जायेंगे | राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के अनुसार राष्ट्रपति भवन एक सार्वजनिक ईमारत होने के कारण, टैक्स भरने वालों के पैसों से कोई धार्मिक पर्यवेक्षण नहीं होगा | २०१७ से सिर्फ़ इफ्तार की दावत ही नहीं, बल्कि दीवाली  और क्रिसमस भी मनाये नहीं जा रहे है |

ZeenewsPost | ArchivedLink

इस पर विदेश मंत्रालय के नीति सलाहकार अशोक मलिक ने ६ जून २०१८ को अपने आधिकारिक ट्विटर से राष्ट्रपति द्वारा घोषित इस नियम को ट्वीट किया था |

2018 Tweet | ArchivedLink

इस अनुसंधान से यह बात स्पष्ट होती है कि उपरोक्त पोस्ट में साझा तस्वीर का वर्तमान से कोई संबंध नहीं है | राष्ट्रपति भवन में भी २०१७ को जारी राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के आदेशानुसार कोई भी त्यौहार नहीं मनाया जा रहा है | यह तस्वीर अक्टूबर २०१४ की है और इस पुरानी तस्वीर को वर्तमान स्थिति के साथ जोड़कर लोगों को भ्रमित करने के उद्देश्य से फैलाया जा रहा है |

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा “वर्तमान में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान हिंदुओं के साथ दीवाली मना रहे हैं, जब राष्ट्रपति भवन में ईद मनाना बंद हो चुका है |” ग़लत है |

Avatar

Title:२०१४ को प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा अपने राजनीतिक दल के अनुयायी के साथ दीवाली के जश्न की तस्वीरों को वर्तमान का बताकर फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply