क्या AAP विधायक इमरान हुसैन दिल्ली में मंदिर तोड़ने वाली भीड़ में शामिल थे ? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२ जुलाई २०१९ को फेसबुक पर ‘Bharat Positive’ नामक एक पेज पर एक पोस्ट साझा किया है | पोस्ट मे एक तस्वीर दी गयी है, जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के विधायक इमरान हुसैन की तस्वीर है और साथ में लिखा हुआ है कि – दिल्ली में मंदिर तोड़ने वाली भीड़ में AAP विधायक था शामिल | चश्मदीदों का दावा AAP विधायक इमरान हुसैन भड़का रहा था भीड़ को | थाणे के सामने भी लगे थे अल्लाह-हू-अकबर के नारे | अब तक केजरीवाल की तरफ से भी नहीं आई कोई प्रतिक्रिया | दिल्ली में होने वाले हैं चुनाव क्या इसी तरह मुस्लिम वोट बैंक का तृष्टिकरण करना चाहता है केजरीवाल? पोस्ट के विवरण में लिखा है – “केजरीवाल के लिए हिन्दू वोट बैंक नहीं हैं |” इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में हालही में हुए मंदिर तोड़फोड़ की घटना के समय AAP विधायक इमरान हुसैन तोड़फोड़ करनेवालों में शामिल थे |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले पोस्ट मे किये गए दावे को गूगल मे ‘imran hussain AAP’ की वर्ड्स से ढूंढा | हमें जो परिणाम मिले उसे आप नीचे देख सकते हैं |

इस संशोधन से ‘TheEconomicTimes’, ‘IndiaToday’ और ‘TimesNow’ द्वारा ३ जुलाई २०१९ को प्रसारित ख़बरें मिली | इन ख़बरों के मुताबिक ३० जून २०१९ को दिल्ली के हौज़ क़ाज़ी इलाके में एक मंदिर पर हमला करके काफ़ी तोड़-फोड़ की गयी | उसी दिन शाम को हौज़ क़ाज़ी पुलिस नाके के सामने काफ़ी भीड़ जमा हो गयी थी और माहौल काफ़ी गरम हो गया था | इसी बीच AAP के विधायक इमरान हुसैन वहां भीड़ के साथ दिखाई देते हैं | इस घटना का एक विडियो बीजेपी के विधायक कपिल मिश्रा ने ट्विटर पर साझा करते हुए कहा, केजरीवाल का मंत्री इमरान हुसैन खुद आया था उस रात हिंदुओं का मंदिर तोड़ने केजरीवाल की आपराधिक चुप्पी का यहीं कारण हैं मंदिर तुड़वाने वाले इमरान हुसैन को तुरंत गिरफ्तार करना जरूरी ये रहा वीडियो-” इस ट्वीट को आप नीचे देख सकते हैं |

TwitterPost | ArchivedLink

पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने भी बुधवार ३ जुलाई २०१९ को दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन पर हौज़ काज़ी इलाके में एक मंदिर की तोड़फोड़ में शामिल होने का आरोप लगाया |

EconomictimesPost | ArchivedLink

दरअसल इमरान हुसैन उस रात वहां पुलिस के बुलाने पर दंगे रोकने के लिए गए थे | उन्होंने कहा कि वह भीड़ को दंगा करने से रोक रहे थे | नीचे दिए गए विडियो में हम उन्हें साफ़ कहते हुए सुन सकते हैं, “जाओ, अब जाओ | मेरी शकल देख के जाओ | अब चले जाओ | इन लोगों को भी लेके जाओ |” 

हमारे संशोधन में मिली इस घटना से जुड़ी पूरी ख़बरों को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

EconomictimesPost | ArchivedLinkTimesnownewsPost | ArchivedLinkIndiatodayPost | ArchivedLink

इसके अलावा इमरान हुसैन के आधिकारिक ट्विटर पेज पर भी हमें हिमांशु सिंह द्वारा दिया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें उनके द्वारा मनजिंदर एस. सिरसा, विजय गोएल और OPIndia पर दर्ज किया गया शिकायत का फोटो साझा किया है |

TwitterPost | ArchivedLink

इस संशोधन से हमें साफ़ पता चलता है की उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा गलत है और लोगों को भ्रमित करने के लिए साझा किया जा रहा है |

जांच का परिणाम : इस संशोधन से हम इस निष्कर्ष पर आते हैं कि उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ‘‘दिल्ली में हालही में हुए मंदिर तोड़फोड़ की घटना के समय AAP विधायक इमरान हुसैन तोड़फोड़ करनेवालों में शामिल थे  |’ ग़लत है | उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा कि इमरान हुसैन दिल्ली में हुए मंदिर की तोड़फोड़ मे शामिल थे लोगों को भ्रमित और गुमराह करने के लिए कहा जा रहा है | वास्तव में इमरान हुसैन दंगा रोकने गए थे |

Avatar

Title:क्या AAP विधायक इमरान हुसैन दिल्ली में मंदिर तोड़ने वाली भीड़ में शामिल थे ? जानिये सच |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •