२०१९ कुम्भ मेले के शाही स्नान वीडियो को सी.ए.ए समर्थन रैली के नाम से वायरल किया जा रहा है |

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के विरोध और समर्थन को लेकर देशभर में आंदोलन हो रहे हैं | इसी क्रम में एक वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुये यह दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में सी.ए.ए के समर्थन में नागा साधुओं द्वारा एक रैली निकाली गई है, वीडियो में हम हज़ारों नागा साधुओं को एक साथ जाते हुये देख सकतें है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “प्रयागराज में हजारों की संख्या में नागा साधु भी आये CAA के समर्थन में” |

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

जाँच की शुरुवात फैक्ट क्रेस्सन्डो ने प्रयागराज के एस.एस.पी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज से संपर्क कर उनसे इस दावे की सच्चाई जानने से की, वीडियो देखने के बाद उन्होंने हमें बताया कि “इस वीडियो का सी.ए.ए और एन.आर.सी से कोई कोई संबंध नही है, हाल ही में प्रयागराज में नागा साधुओं द्वारा सी.ए.ए और एन.आर.सी को लेकर कोई भी रैली नहीं निकाली गयी है |”

तद्पश्चात फैक्ट क्रेस्सन्डो ने प्रयागराज के सोशल मीडिया डिपार्टमेंट में संपर्क कर उनसे इस वीडियो के बारे मैं अधिक जानकारी मांगी, वीडियो को देख हमें बताया गया कि “यह वीडियो वर्तमान से नहीं है बल्कि २०१९ के प्रयागराज कुंभ मेले से है |”

हमने इन्विड टूल के मदद से यांडेक्स रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसके परिणाम में हमें कई सदृश्य दिखने वाले यूट्यूब वीडियो मिले | १० मार्च २०१९ को “यूट्यूब जंक्शन” द्वारा प्रसारित वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “कुम्भ मेला का समापन देख लो नज़ारा एक साथ कितने साधु संत ये ही तो भारतीय धरोहर है |” 

उपरोक्त वीडियो और सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो एक ही समय के हैं | इन वीडियों का तुलनात्मक विश्लेषण आप नीचे देख सकतें है |

५ मार्च २०१९ को अपलोड किया गया इस वीडियो का लम्बा वर्शन भी यूट्यूब पर उपलब्ध है जिसे आप नीचे देख सकते है | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “प्रयागराज कुंभ मेला 2019 महाकाल की बारात का अद्भुत दृश्य” |

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त वीडियो को गलत पाया है | वायरल वीडियो २०१९ कुम्भ मेले का है और इस वीडियो का सी.ए.ए और एन.आर.सी से कोई संबंध नहीं है | प्रयागराज में वर्तमान में नागा साधुओं द्वारा सी.ए.ए के समार्थन में कोई रैली नही निकाली गयी है |

फैक्ट क्रेस्सन्डो द्वारा सी.ए.ए और एन.आर.सी से संबंधित फैक्ट चेक पढ़ने के लिए नीचे दिए हुये लिंक पर क्लिक करे :

१) २ साल पुरानी राम नवमी यात्रा के वीडियो को वर्तमान में एन.आर.सी समर्थन रैली का बता वायरल किया जा रहा है |

२) खालिस्तान समर्थक रैली का पुराना वीडियो एन.आर.सी का बता हुआ वायरल |

३) नेपाल से एक पुरानी असंबंधित तस्वीर को असम में नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध प्रदर्शन का बताया जा रहा है |

Avatar

Title:२०१९ कुम्भ मेले के शाही स्नान वीडियो को सी.ए.ए समर्थन रैली के नाम से वायरल किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •