क्या पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या और बांग्लादेशी रिफ्यूजी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ दुर्व्यवहार किया ?

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२६ अप्रैल २०१९ को फेसबुक पर ‘ArindamPandit’ नामक एक यूजर ने एक पोस्ट साझा है | पोस्ट में एक विडियो दिया गया है | विडियो में एक संकरी गली दिखाई दे रही है | गली में से कुछ बीजेपी कार्यकर्ता बाइक से गुजर रहे है और रास्ते पर खड़ी भीड़ में से कुछ लोग उनके हाथ से बीजेपी का झंडा तथा सर से टोपी छिनकर हवा में उछाल रहे है | पोस्ट के कैप्शन में लिखा है – 2019 के लोकसभा चुनाव में अगर भारतीय जनता पार्टी का समर्थन नहीं दिया तो यह घटना पूरे भारत में जल्दी देखने को मिलेगा
पश्चिम बंगाल मे रोहिंग्या और बांग्लादेशी रिफ्यूजी के बस्तियों से जब भाजपा कार्यकर्ता गुजर रहे थे तब वहां के रहने वाले रोहिंग्या मुसलमान और बांग्लादेशी उनके साथ ऐसा सलूक कर रहे थे |

इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या और बांग्लादेशी रिफ्यूजी द्वारा बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ दुर्व्यवहार किया गया | आइये जानते है इस विडियो और पोस्ट के दावे की सच्चाई |

ARCHIVE POST

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले पोस्ट में साझा विडियो को ध्यान से देखा और सुना तो पता चला कि विडियो में लोग गुजराती भाषा में बात कर रहे है | साथ ही हमने पढ़ा कि नीचे कमेन्ट सेक्शन में संजय महिदा नामक एक गुजराती यूजर ने लिखा है कि लोग कठियावाडी भाषा में बात कर रहे है | इसके आधार पर हमने संशोधन की शुरुआत की | यू-ट्यूब पर हमने अलग अलग की वर्ड्स के साथ सर्च किया तो हमें The big picture चैनल द्वारा अपलोड किया गया यही विडियो मिला, जो आप नीचे देख सकते है |

ARCHIVE VIDEO

इस विडियो के बारे में जो लिखा है उससे यह पता चलता है कि विडियो २०१७ की है, जब राज्य में विधानसभा के चुनाव हो रहे थे | यह घटना सूरत की है |

इसके बाद हमने bjp bike rally harassed in surat इन की वर्ड्स के साथ सर्च किया तो हमने  इस विडियो को और चैनल द्वारा भी अपलोड किया गया पाया |

इन सभी चैनल द्वारा विडियो की जानकारी में यही लिखा गया है कि यह घटना २०१७ की है और सूरत शहर के हिरा बाजार में घटित हुई है | ABP अस्मिता चैनल द्वारा अपलोड विडियो आप नीचे देख सकते है |

ARCHIVE VIDEO

21 NEWS CHANNEL चैनल द्वारा अपलोड विडियो आप नीचे देख सकते है |

ARCHIVE VIDEO

जब हमने bjp bike rally tackled in surat 2017 इन की वर्ड्स के साथ गूगल में सर्च किया तो हमें The Siyasat Daily द्वारा ८ दिसम्बर २०१७ को प्रसारित एक खबर मिली, जिसमे यही विडियो के साथ यह लिखा है कि गुजरात के उत्तर सूरत विधानसभा सीट के बीजेपी उम्मीदवार कांति बल्लार की बाइक रैली का स्थानिक लोगों द्वारा प्रखर विरोध किया गया | महिधारपुरा इलाके में यह घटना हुई और पहले यह इलाका बीजेपी का गढ़ मन जाता था |

ARCHIVE SIYASAT

सियासत की इसी खबर में गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवानी द्वारा इस विषय पर ट्वीट किये जाने का उल्लेख है | तो हमने उनका ट्वीट भी ढूंढा | जिग्नेश मेवानी ने ७ दिसम्बर २०१७ को यही विडियो ट्वीट किया था जिसमे उन्होंने लिखा था कि यह गुजरात का विडियो है |

ARCHIVE TWEET

जांच का परिणाम :  इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा कि, “पश्चिम बंगाल मे रोहिंग्या और बांग्लादेशी रिफ्यूजी के बस्तियों से जब भाजपा कार्यकर्ता गुजर रहे थे तब वहां के रहने वाले रोहिंग्या मुसलमान और बांग्लादेशी उनके साथ ऐसा सलूक कर रहे थे” सरासर गलत है | यह २०१७ का सूरत, गुजरात का विडियो है |

Avatar

Title:क्या पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या और बांग्लादेशी रिफ्यूजी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ दुर्व्यवहार किया ?

Fact Check By: Rajesh Pillewar 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •