अभिनेता जावेद जाफरी के नाम से वायरल ट्वीट का स्क्रीनशॉट फर्जी है |

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अभिनेता जावेद जाफ़री के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है | ट्वीट में मुस्लिम फल और सब्जी विक्रेताओं के नाम से वायरल हो रहे वीडियो में सब्जी और फलों पर थूक लगाकर बेचने जैसे दावों के बारें में लिखा गया है और कहा गया है कि कोई सबूत नहीं है कि वे COVID-19 से पीड़ित हैं | ट्वीट को विशेष रूप से स्क्रीनशॉट के रूप में साझा किया गया था, जिसमें कोई लिंक या आर्काइव नहीं है |

जावेद जाफरी के नाम से किये गये ट्वीट के स्क्रीनशॉट में लिखा गया है कि “जरूरी नही की थूक लगाकर फल और सब्जी बेच रहे सभी मुसलमान कोरोना पॉजिटिव हो | फिर भी कुछ हिंदू ग्राहक मुस्लिम विक्रेताओं का बहिष्कार कर नफ़रत फैला रहे हैं। इतने असहिष्णु क्यों हैं आप?

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

जाँच की शुरुवात हमने इस ट्वीट को ट्विटर एडवांस सर्च और अलग अलग कीवर्ड्स के माध्यम से ढूँढा, जिसके परिणाम में हमें इस तरह का कोई ट्वीट नही मिला,यह ट्वीट गूगल के कैश में किसी आर्काइव के रूप में या को किसी यूआरएल रूप में भी उपलब्ध नही था | सोशल मीडिया पर उपलब्ध पोस्ट को देखकर समझ मे आता है कि एक ही स्क्रीनशॉट को सोशल यूज़र्स डाउनलोड कर साझा कर रहे है | 

इसके पश्चात हमें जावेद जाफ़री के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट द्वारा इस सम्बन्ध में दिया गया स्पष्टीकरण मिला जिसमे लिखा गया है कि “मेरे नाम का एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर काफी वायरल है | यह ट्वीट फेक है | यह फेक न्यूज़ स्कैम का एक हिस्सा है | मेरे ट्वीट और भाषणों ने हमेशा सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा दिया है खासकर आज के समय में जहां दुनिया मानवता के दुश्मन से लड़ने के लिए एकजुट होती है |”

आर्काइव लिंक

उन्होंने अंततः एक वीडियो पोस्ट किया, जहां उन्होंने वायरल स्क्रीनशॉट को ट्वीट न करने के अपने दावे को दोहराया, और कहा कि वह स्क्रीनशॉट में प्रदर्शित की जा रही प्रोफ़ाइल तस्वीर का उपयोग नहीं करते हैं। उन्होंने स्क्रीनशॉट शेयर करने वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करने की भी धमकी दी है | ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि “मैं आमतौर पर व्यक्तिगत वीडियो को अक्सर ट्रोल किए जाने के बावजूद पोस्ट नहीं करता, लेकिन इस बार करना पड़ा | ऐसे समय में जब मानवता का सामना एक महामारी साथ हुआ हो जहाँ नस्ल,धर्म,रंग का कोई मतलब नही है, कुछ भारतीय अभी भी #FakeNews #HinduMuslim #HateMongering में लिप्त हैं |”हमें नफरत नहीं बल्कि प्यार चाहिए |”

आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर जावेद जाफ़री के नाम से फैलाया गया साम्प्रदायिकता से भरा ट्वीट फर्जी है |

Avatar

Title:अभिनेता जावेद जाफरी के नाम से वायरल ट्वीट का स्क्रीनशॉट फर्जी है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •