कुवैत में हुए विरोध के पुराने विडियो को हाल में हुए जेद्दा के हलाल डिस्को ब्लास्ट के नाम से फैलाया जा रहा है |

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ जुलाई २०१९ को Sipah e Abbas A.S नामक एक फेसबुक यूजर ने एक विडियो पोस्ट किया, जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “सऊदी अरब के जेद्दा में हलाल डिस्को में हुआ कल रात धमाका | कई मौतें और कई को चोटें पहुची” | वीडियो में, एक बच्चे सहित कई लोगों को भारी धुएं के बीच भागते हुए देखा जा सकता है, साथ ही बैकग्राउंड में कोई व्यक्ति अरबी भाषा टिप्पणी करते हुए सुना जा सकता है | इस विडियो को शेयर करते हुए यह दावा किया रहा है कि यह विडियो हाल ही में सऊदी अरब के जेद्दा के हलाल डिस्को में हुए विस्फोट का है | इस विडियो को काफ़ी तेजी से विभिन्न सोशल मीडिया मंचों पर साझा किया जा रहा है, इस विडियो को १००० से ज्यादा व्यूज मिल चुके है |

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव विडियो 

संशोधन से पता चलता है कि…

जांच की शुरुआत हमने इस विडियो को इनविड टूल का इस्तेमाल करते हुए छोटे छोटे कीफ्रेम्स में तोडा व गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसके परिणाम में हमें alziadiq8 नामक एक अरबी वेबसाइट का लिंक मिला, ६ जुलाई २०१४ को अरबी मीडिया आउटलेट Alziadiq8, ने इसे कुवैत में विरोध प्रदर्शन के रूप में वर्णित किया है | इस विडियो में हमें कोई अरबी टिप्पणी नहीं सुनाई देती है जैसे की वायरल वीडियो में सुनी जा सकती है | इस वेबसाइट में इस विडियो का यूट्यूब लिंक भी दिया गया है | 

आर्काइव लिंक 

गूगल सर्च करने पर हमें पता चला कि कुवैत में जुलाई २०१४ के विरोध को कई मीडिया संगठनों द्वारा कवर किया गया था, अल जज़ीरा की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ६ जुलाई २०१४ को २००० से अधिक लोगों ने कुवैत सिटी की ग्रैंड मस्जिद से शाम के रमज़ान की नमाज़ के बाद विपक्षी नेता, मुसल्लम अल-बराक की गिरफ्तारी के विरोध में मार्च किया था | प्रदर्शनकारियों ने भ्रष्ट न्यायाधीशों को निष्कासित करने की मांग भी की थी | पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस और अचेत हथगोले का इस्तेमाल किया था | 

आर्काइव लिंक

७ जुलाई २०१४ को एनडीटीवी द्वारा प्रकाशित खबर के अनुसार कुवैत के विपक्षी नेता और पूर्व सांसद मुसलाम अल-बराक के समर्थकों ने कुवैत सिटी में उनकी रिहाई के लिए प्रदर्शन के दौरान टायर जलाये जिसके चलते कुवैती सुरक्षा बल घटनास्थल पर पहुंच गए थे | 

आर्काइव लिंक 

गल्फ न्यूज़ द्वारा प्रकाशित खबर के अनुसार विपक्षी रैली को तितर-बितर करने के लिए कुवैत पुलिस को आंसू गैस के गोले फेकने पड़े थे |

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष : तथ्यों की जांच के पश्चात हमने उपरोक्त विडियो को गलत पाया है | कुवैत में हुए विरोध के एक पुराना वीडियो को सऊदी अरब के जेद्दा के हलाल डिस्को में हुए घातक विस्फोट के रूप में वायरल किया जा रहा है |  

Avatar

Title:कुवैत में हुए विरोध के पुराने विडियो को हाल में हुए जेद्दा के हलाल डिस्को ब्लास्ट के नाम से फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •