हरियाणा के हिसार में हुई हत्या के सीसीटीवी फूटेज को बिहार का बता वायरल किया गया जा रहा है।

Communal False

यह वीडियो बिहार का नहीं, हरियाणा के हिसार का है। इसमें मृतक का नाम विकास है, मोहम्मद मुस्तकिम नहीं।

एक सीसीटीवी फूटेज इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। उसमें आप कुछ लोगों को एक शख्स की हत्या करते हुये देख सकते है। दावा किया जा रहा है कि बिहार के समस्तीपुर में मोहम्मद मुस्तकिम नामक शख्स को बैल चुराने के लिये जान मार दिया गया। 

वायरल हो वीडियो के साथ लिखा है, “ज़ुल्म कब त। बिहार के समस्तीपुर में मोहम्मद मुस्तक़िम को कुछ लोगों ने बैल चुराने के आरोप में जान से मार दिया है अगर इस बात को समझें तो आगे आएं और इंसाफ़ दिलाने के लिए उम्मते मुहम्मदी होने का सबुत दें। इस मरहूम मोहम्मद मुस्तक़िम के लिए इंसाफ़ की मुहिम चलाएं?” (शब्दश:)

फेसबुक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया। हमें 3 अगस्त को न्यूज़-18 इंडिया के चैनल पर हमें यही वीडियो प्रसारित किया हुआ मिला। उसके साथ दी गयी जानकारी में बताया गया है कि इस वीडियो में दिख रही घटना हरियाणा के हिसार में स्थित हांसी की है। 

इसमें यह भी बताया गया है कि जिस आदमी की मौत हुई उस पर पहले से ही 20 मुकदमे दर्ज थे और वह दस दिन पहले ही पेरोल पर बाहर आया था।

आर्काइव लिंक

आगे बढ़ते हुये हमें 3 अगस्त को प्रकाशित अमर उजाला की खबर मिली। उसमें बताया गया है कि मृतक का नामक विकास था। अपराधियों और मृतक के बीच पुराने झगड़ों के चलते हत्या की गयी।

मृतक के पिता को भी कुछ साल पहले ऐसी मारा गया था। रिपोर्ट में बताया गया है कि 26 वर्षीय विकास अपने परिवार के साथ सो रहे थे, तभी रात करीब दो बजे छह-सात लोग उनके घर में गुस गये व विकास को मारने लगे। विकास घर से भाग गया। परंतु उन लोगों ने बाद में उसे पकड़कर लाठी- डंड़ों से पीटकर व धारदार हथियार से मारकर उसकी हत्या कर दी। विकास के शरीर और गर्दन पर हथियार के काफी निशान थे। घटना के बाद जब उसे अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने सभी आरोपियों की पहचान सीसीटीवी फूटेज की मदद से कर ली है। पुलिस का कहना है कि यह घटना पुरानी दुश्मनी के चलते घटी है। 

इसके बाद फैक्ट क्रेसेंडो ने हांसी के थाना प्रमुख नरेंद्र पाल से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि इस घटना में मृतक का नाम विकास है और दोनों गुटों में पुरानी रंजीश के कारण यह वारदात हुई है। इस मामले में सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है जिनमें से तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी बचे हुये लोगों की धर-पकड़ अभी जारी है।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। यह घटना बिहार में नहीं, बल्की हरियाणा के हिसार में घटी थी। इसमें मृतक का नामक विकास है।

Avatar

Title:हरियाणा के हिसार में हुई हत्या के सीसीटीवी फूटेज को बिहार का बता वायरल किया गया जा रहा है।

Fact Check By: Samiksha Khandelwal 

Result: False