मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी का मुखौटा पहने भा.ज.पा कार्यकर्ता की पिटाई का वीडियो बिहार चुनाव प्रचार का बता वायरल किया जा रहा है।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बिहार में आगामी चुनाव के चलते सभी पार्टियां व उनके नेता प्रचार में डट कर जमे हुए है। इस दौरान इन पार्टियों व नेताओं को लेकर कई वीडियो व तस्वीरों को गलत दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी ऐसे कई वायरल वीडियो व तस्वीरों की सच्चाई आप तक पहुँचाई है। वर्तमान में सोशल मंचों पर ऐसा ही एक वीडियो वायरल होता नज़र आ रहा है। इस वीडियो में आप भारी संख्या में लोगों की भीड़ को देख सकते है। भीड़ में एक शख्स प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा पहना हुआ है। कुछ समय बाद वह शख्स उस मुखौटे को उतारकर लोगों के बीच जाता है और उसी दौरान लोग उसे पीटने लगते है। अगर आप वीडियो में आ रही आवाजों को सुनेंगे तो आपको लोग नारे लगा रहे है, ऐसा ज्ञात होगा। इस वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक बिहार चुनाव प्रचार के दौरान भा.ज.पा नेता को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा पहना देख लोगों ने उन्हें भगा दिया।

वायरल हो रहे वीडियो के शीर्षक में लिखा है, 

बिहार में भाजपा का नेता मोदी जी का मुखोटा लगाकर पहुंचा तो लोगो ने भगा दिया।”

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Modi Facade8.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इस वीडियो को सोशल मंचो पर काफी साझा किया जा रहा है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Modi Facade9.png

फेसबुक |आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

वीडियो मध्य प्रदेश के इंदौर शहर का है, जहाँ भा.ज.पा के कार्यकर्ताओं व कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच गाँधी जयंती के दिन भिडंत हुई थी। वीडियो का बिहार चुनाव से कोई सम्बन्ध नहीं है।

उपरोक्त दावे की जाँच हमने कीवर्स सर्च के ज़रिये की तो हमें भोपाल समाचार नामक एक समाचार संस्था का एक समाचार लेख मिला। उसमें वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे दृश्य की तस्वीरें भी प्रकाशित की गयी है। समाचार लेख के अनुसार 

यह घटना इस वर्ष गाँधी जयंती के दिन घटी है। गाँधी जयंती के दिन इंदौर के रीगल चौराहे पर स्थित गाँधी प्रतिमा पर कांग्रेस पार्टी के कार्यक्रम में भा.ज.पा कार्यकर्ता लक्ष्मी नारायण शर्मा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेशभूषा व मुखौटा धारण कर पहुँच गये व गाँधी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जिसके बाद कांग्रेस के कार्यकर्ता भा.ज.पा के खिलाफ नारेबाजी करने लगे व लक्ष्मी नारायण शर्मा की पिटाई कर दी।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Modi Facade.png

आर्काइव लिंक

इस सम्बन्ध में और विवेचना करने पर हमें कई अन्य समाचार लेख मिले जो उपरोक्त दी गयी जानकारी की पुष्टि करते है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Modi Facade10.png
दैनिक भास्करआर्काइव लिंक
डेलीहंटआर्काइव लिंक
खबर दुनियाआर्काइव लिंक

हमें सद्भावना पाती नामक एक यूट्यूब चैनल पर वायरल हो रहा वीडियो मिला। उस चैनल पर वीडियो में घट रही घटना की जानकारी दी गई है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Modi Facade7.png

आर्काइव लिंक

इस प्रकरण को विस्तृत से जानने के लिए हमने इंदौर के तुकोगंज थाने के सब इंस्पेक्टर सत्येन्द्र सिंह सिसोदिया से संपर्क किया, उनके द्वारा हमें बताया गया कि, 

“वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही घटना इंदौर के रीगल सिनेमा के पास के गाँधी स्मारक की है। 2 अक्टूबर को भा.ज.पा के लक्ष्मी नारायण शर्मा प्रधानमंत्री मोदी के जैसी वेशभूषा व उनके जैसा दिखने वाला मुखौटा पहनकर गाँधी स्मारक पर माला पहनाने आए थे और उसके बाद उनमें व कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में झड़प हो गयी थी। इस मामले में एफ.आई.आर दर्ज कर दी गयी है।“

तदनंतर पूरे घटना व उससे जूड़े सबूतों की पुष्टि करने हेतु भा.ज.पा के कार्यकर्ता लक्ष्मी नारायण शर्मा से संपर्क तो उन्होंने कहा कि, 

“गाँधी जयंती के दिन मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जैसे वेशभूषा व उनका मुखौटा पहन कर गाँधी स्मारक पर माला अर्पण करने गया था, मैंने वहाँ किसी से बात नहीं की व कोई भाषण बाजी नहीं की फिर भी कांग्रेस के लोगों ने मेरे साथ बदसलूकी की। कांग्रेसियों ने गाँधी जयंती के दिन गाँधी स्मारक पर हिंसा की, गाँधीजी के अहिंसा के सिद्धांत का भी मान नहीं रखा। मैंने उनके खिलाफ तुकोगंज पुलिस थाने में 323, 294 व 506 इन तीन धाराओं के अंतर्गत एफ.आई.आर भी दर्ज करायी है।“

लक्ष्मी नारायण शर्मा ने हमें एफ.आई.आर की कॉपी भी उपलब्ध करायी है।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है, दावे में भाजपा कार्यकर्ता को मोदी की वेशभूषा व मुखौटा पहनने व पिटने की बात को बिहार चुनाव प्रचार का बताया जा रहा है, जो कि गलत है ।

Avatar

Title:मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी का मुखौटा पहने भा.ज.पा कार्यकर्ता की पिटाई का वीडियो बिहार चुनाव प्रचार का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply