भारतीय विंग कमांडर अभिनन्दन ने गोदी मीडिया कि पोल खोल दी, वतन वापसी करते ही बरसे | क्या यह सच है?

False Headline International National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१ मार्च २०१९ को पहली बार फेसबुक के एबीपी न्यूज़ पब्लिक ग्रुप पर साझा की गई 24VIRALPAGE की यह पोस्ट व उसमें दिया गया विडियो काफी चर्चा में है | ‘भारतीय विंग कमांडर अभिनन्दन ने गोदी मीडिया कि पोल खोल दी, वतन वापसी करते ही बरसेइस हैडलाइन के साथ खबर में एक विडियो दिया है व दावा किया है कि विंग कमांडर अभिनन्दन ने वतन वापसी करते ही ‘गोदी मीडिया’ की आलोचना की | जानते है इसकी सच्चाई |

ARCHIVE 24VIRALPAGE

पहले देखते है यह पोस्ट कितनी वायरल हो रही है | फैक्ट चेक किये जाने तक इस पोस्ट को एबीपी न्यूज़ पब्लिक ग्रुप एवं A QAYYUM HAKIM के पेजेस पर ६४८ शेयर, १४१ कमेंट्स तथा ४२९६ लाइक्स मिल चुके थे |

ARCHIVE QAYYUM

देखते है खबर में क्या कहा गया है…

24 VIRAL PAGE के खबर की हैडलाइन में कहा गया है कि भारतीय विंग कमांडर अभिनन्दन ने वतन वापसी करते ही एक विडियो में भारतीय मीडिया की (हैडलाइन में गोदी मीडिया लिखा है| ) जमकर आलोचना की | लेकिन नीचे खबर में ‘भारत को सौपने से पहले’ ऐसा लिखा है | तो यहाँ दुविधा पैदा होती है कि जिस विडियो की बात यहाँ की जा रही है वह वास्तव में अभिनन्दन जब पाकिस्तान की कैद में थे तब का है, या जब वह भारत वापिस आये तब का है | सो हमने इस विडियो की सच्चाई जानने का प्रयास किया |    

संशोधन से पता चलता है कि…
जब हमने गूगल किया तो पता चला कि यह विडियो यू-ट्यूब पर अपलोड किया गया है तथा ढेर सारी न्यूज़ नेटवर्क्स पर मौजूद है, जो की नीचे दिए स्क्रीन शॉट्स से जाहिर होता है |

गूगल के और तह तक जाने से पता चला कि 24 VIRAL PAGE ने अपनी खबर में जो विडियो इस्तेमाल किया है वह वास्तव में पाकिस्तान की न्यूज़ साईट BOLNETWORK इस विडियो फेसबुक पेज से लिया गया है |   

ARCHIVE BOLNETWORK

अब यह जानना जरुरी हो जाता है कि BOLNETWORK ने यह विडियो कब पोस्ट किया और अभिनन्दन ने किस समय भारत की धरती पर कदम रखा | BOLNETWORK का पेज देखने के बाद स्पष्ट होता है कि, उन्होंने यह विडियो १ मार्च २०१९ को रात ९ बजकर ०६ मिनट पर पोस्ट किया है, जो नीचे की स्क्रीन शॉट पर देख सकते है | पोस्ट के हैडलाइन में उर्दू भाषा में जो लिखा गया है, जिसका हिंदी में गूगल भाषांतरण इस प्रकार है- मैंने अपनी पिस्तौल उगल दी और चलने लगी” भारतीय पायलट को गिरफ्तार किया गया सिर्फ एक वीडियो स्टेटमेंट | याद रहे की पाकिस्तान ने अभिनन्दन को शुक्रवार, १ मार्च २०१९ को ही भारत के सुपुर्द किया था |

अब यह जानना भी जरुरी हो जाता है कि वास्तव में किस समय अभिनन्दन ने भारत कि भूमि पर कदम रखा | गूगल करने पर पता चलता है की..

  1. ‘द हिन्दू’ ने दिए टाइम लाइन के अनुसार, अभिनन्दन को लेकर पाकिस्तान सैनिक वाघा बॉर्डर पर शुक्रवार, १ मार्च २०१९ की रात ९ बजकर १५ मिनट पर पहुंचे | ९ बजकर २० मिनट पर पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी किया | ९ बजकर २२ मिनट पर अभिनन्दन ने भारत की जमीं पर कदम रखे |  

2. ‘इंडियन एक्सप्रेस’ ने दिए टाइम लाइन के अनुसार, ९ बजकर २० मिनट पर अभिनन्दन ने जीरो लाइन पार की |

3. अभिनन्दन के भारत आने की घटना का लगभग सभी टीवी मीडिया ने लाइव टेलीकास्ट किया था | समाचार चैनेल ‘TIMES NOW’ का एक विडियो जो यू-ट्यूब पर अपलोड किया गया है, उसमे भी अभिनन्दन के जीरो लाइन पार करने का जो समय रिकॉर्ड हुआ है वह है ९ बजकर २२ मिनट, जो की नीचे स्क्रीन शॉट में देख सकते है |

ARCHIVE HINDU | ARCHIVE EXPRESS | ARCHIVE NOW

अब यह बिलकुल साफ़ हो जाता है कि विंग कमांडर अभिनन्दन ने पाकिस्तान द्वारा रिहा किये जाने के बाद ९ बजकर २२ मिनट पर भारत की सीमा में प्रवेश किया | हालाँकि इंडियन एक्सप्रेस ने ९ बजकर २० मिनट कहा है, लेकिन दो मिनट का अंतर कोई मायने नहीं रखता | वह लगभग एक ही समय कहा जा सकता है |   

जांच का परिणाम :  संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि विंग कमांडर अभिनन्दन ने शुक्रवार, १ मार्च २०१९ की रात ९ बजकर २२ मिनट पर भारत की सीमा में प्रवेश किया, जबकि 24 VIRAL PAGE की खबर में दिया गया BOLNETWORK का विडियो १ मार्च २०१९ को रात ९ बजकर ०६ मिनट पर पोस्ट किया है | इसका मतलब साफ़ है कि अभिनन्दन के भारत आने से पहले ही यह विडियो अपलोड किया गया था | यह भी साफ़ हो जाता है कि वह विडियो अभिनन्दन जब पाकिस्तान कि कैद में थे तब पाकिस्तान आर्मी द्वारा शूट किया गया | अभिनन्दन ने भारत वापिस आने के बाद का यह विडियो शूट नहीं किया, जैसा कि खबर की हैडलाइन में दावा किया गया है | अतः इस खबर की हैडलाइनगलत (FALSE HEADLINE) है |  

Avatar

Title:भारतीय विंग कमांडर अभिनन्दन ने गोदी मीडिया कि पोल खोल दी, वतन वापसी करते ही बरसे | क्या यह सच है?

Fact Check By: Rajesh Pillewar 

Result: False Headline (यह शीर्षक गलत है)


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •