पतंग के साथ उड़ती हुई बच्ची का वीडियो ताइवान से है गुजरात से नहीं |

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मकर संक्रांति का उत्सव भारत के राज्यों में मनाया जाने वाला एक अहम हिंदू पर्व है, इस उत्सव को पतंग महोत्सव के नाम से भी जाना जाता है, १४ जनवरी को संपन्न हुये इस पर्व के पश्चात सोशल मंचों पर एक वीडियो चर्चा का विषय बना हुआ है इस वीडियो के माध्यम दावा किया जा रहा है कि गुजरात में मकर संक्रांति के उपलक्ष्य पर पतंगबाज़ी के दौरान एक 3 वर्षीय बच्ची पतंग के साथ हवा में उड़ गयी |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि

 “गुजरात में मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में पतंग उत्सव के दौरान 3 साल की बच्ची पतंग के साथ ही उड़ गई |”

फेसबुक पोस्ट | फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने पाया कि यह घटना ताइवान से है, घटना का भारत या पतंग महोत्सव से कोई सम्बन्ध नहीं है|

जाँच की शुरुवात हमने उपरोक्त वीडियो से सम्बंधित न्यूज़ रिपोर्टस को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर ढूँढने से की, जिसके परिणाम से हमें रॉयटर्स द्वारा ३१अगस्‍त२०२० को प्रकाशित की एक खबर मिली, रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार यह घटना ३१ अगस्‍त २०२० को घटी थी | खबर में बताया गया कि ताइवान के काइट फेस्टिवल में एक बड़ी पतंग के साथ तीन साल की बच्ची के उड़ने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ है |

आर्काइव लिंक

तद्पश्चात ट्विटर एडवांस्ड सर्च करने पर यह वीडियो हमें ट्विटर पर भी उपलब्ध मिला जिसको ३० अगस्त २०२० को अपलोड किया गया था | पोस्ट में ताइवान के एक यूजर ने २०२० को ओरिजनल और लंबा वीडियो डालते हुए पूरी सच्‍चाई बयां की है |

आर्काइव लिंक

इस घटना को कई मीडिया संगठनों ने ३१ अगस्त २०२० को ताइवान में हुई घटना के रूप में साझा किया है | नीचे आप ३१ अगस्त २०२० को ड टेलीग्राफ के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किये गये इस घटना से सम्बंधित वीडियो को देख सकते है | 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो ताइवान से है ना की गुजरात से, इस घटना के साथ भारत से कोई संबंध नहीं है |

Avatar

Title:पतंग के साथ उड़ती हुई बच्ची का वीडियो ताइवान से है गुजरात से नहीं |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •