2022 के वीडियो को तमिलनाडू से भाग रहे बिहारी मजदूर के नाम से फैलाया जा रहा है।

False National

बिहार और झारखंड के बीच यात्रा करने वाली ट्रेन के वीडियो को तमिलनाडू से भाग रहे बिहारी मजदूर के नाम से फैलाया जा रहा है।

तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों पर हो रहे अत्याचार के नाम से फिर कई असंबंधित वीडियो को वायरल किया गया है। कई लोग ऐसा कथित तौर पर दावा कर रहे है की तमिलनाडु में हत्याओं के कारण बिहारी मजदूर वहां से भाग रहे है।

इसी सन्दर्भ में लोगों को ट्रेन से लटकते हुए दिखाने वाला एक वीडियो शेयर किया जा रहा है जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि ये ट्रेन तमिलनाडु से बिहार जा रही है जिसमे बिहारी मजदूर भाग रहे है। कहा जा रहा है की वीडियो में हम प्रवासी श्रमिकों को तमिलनाडु छोड़ते हुए देख सकते हैं।

वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है कि “#tamilnadu_to_bihar सबसे जायदा जिम्मेदार कोन होगा, अफबा फैलाने वाला क्या से क्या हो गया।”

फेसबुक पोस्टआर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने वायरल वीडियो को छोटे फ्रेम्स में तोड़कर गूगल पर रिवर्स इमेज और कीवर्ड सर्च किया जिसके परिणाम से हमें ये वीडियो एक यूट्यूब चैनल पर 16 नवंबर 2022 को अपलोड किया हुआ मिला। इस वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है कि “13348 पटना बरकाकाना पलामू एक्सप्रेस।”

इस वीडियो को ध्यान से देखने पर हमें ट्रेन का नाम नज़र आता है। नीचे ट्रेन पर “पलामू एक्सप्रेस” लिखा हुआ देख सकते है।  

उपरोक्त जानकारी को ध्यान में रखते हुए हमने इंडियन रेलवे के वेबसाइट को खंगाला, जिसके परिणाम से हमें पता चला की पलामू एक्सप्रेस बिहार के पटना जंक्शन और झारखण्ड के बरकाकाना जंक्शन के बीच चलती है। 

उपरोक्त तथ्यों से हम स्पष्ट हो सकते है कि वायरल वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है।

  1. क्योंकि ये वीडियो नवंबर 2022 से इन्टरनेट पर उपलब्ध है, ये हाल ही का नहीं हो सकता है।
  2. वीडियो में दिख रही ट्रेन (पलामू एक्सप्रेस) केवल बिहार से झारखण्ड के बीच चलती है जिसका मतलब ये है कि ये ट्रेन दावे अनुसार तमिलनाडु से बिहार नहीं आ सकती।

तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों पर हो रहे अत्याचार के नाम से वायरल हुए कई असंबंधित वीडियो जिन्हें फैक्ट क्रेसेंडो ने फैक्ट चेक कर उन्हें गलत बताया है। इन फैक्ट चेक को आप नीचे पढ़ सकते है।

निष्कर्ष:

तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने वायरल वीडियो के साथ किये दावे को गलत पाया है। बिहार और झारखंड के बीच यात्रा करने वाली ट्रेन का एक पुराना वीडियो इस दावे के साथ वायरल हो रहा है कि प्रवासी श्रमिक तमिलनाडु छोड़ रहे हैं। ये वीडियो 2022 का है।

Avatar

Title:2022 के वीडियो को तमिलनाडू से भाग रहे बिहारी मजदूर के नाम से फैलाया जा रहा है।

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False

Leave a Reply