12 वर्षीय बच्ची की हत्या के आरोपी को नीतीश ने बनाया DGP – क्या यह हैडलाइन सही है?

False Headline
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१२ फरवरी २०१९, मंगलवार को फेसबुक पर वायरल उपरोक्त पोस्ट बोलता हिन्दुस्तान वेबसाइट की ९ फरवरी की खबर है | खबर की हैडलाइन में बिहार के नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पाण्डेय को १२ वर्षीय बच्ची की हत्या का आरोपी करार दिया गया है | कहा गया है की प्रदेश के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने १२ वर्षीय बच्ची की हत्या के आरोपी को (सन्दर्भ डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय का) डीजीपी बनाया | स्टोरी पढ़ने के बाद यह बात स्पष्ट हो जाती है की हैडलाइन में कुछ गड़बड़ है | क्या वह सचमुच हत्या के आरोपी है ? जब हम नीचे स्टोरी पढ़ते है तो संदर्भित मामले में (डीजीपी) गुप्तेश्वर पाण्डेय के खिलाफ प्राथमिक सुचना अहवाल (एफआयआर) की बात का जिक्र कहीं भी नहीं है | सो हमें यह गलत हैडलाइन का मामला लगा और हमने छानबीन की |

आरकाइव पेज  

छानबीन से पता चला कि नवरुना चक्रवर्ती नामक १२ वर्षीय लड़की का १८ सितम्बर २०१२ को बिहार के मुज़फ्फरपुर शहर में उसके अपने घर से ही अपहरण हुआ था |

इस मामले में लड़की के पिता ने दुसरे दिन १९ सितम्बर २०१२ को शहर के नगर पुलिस थाने में अपहरण की शिकायत दर्ज कराई जिसका एफआयआर नंबर ५०७/२०१२ है |

गुप्तेश्वर पाण्डेय उस समय जिले के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक थे |

इस एफआयआर में गुप्तेश्वर पाण्डेय का नाम होने की पुष्टि नहीं होती है |

पूरा मामला जानने के लिए नीचे दिए गए द हिन्दू के  दिसम्बर  १७, २०१६ के आर्टिकल को पढ़ सकते है |
 The Hindu     
   
तथ्यों की जांच का परिणाम :
इस संशोधन से यह पता चलता है की इस खबर की हैडलाइन में जो बात कही गयी है उसका जिक्र या उसे स्थापित करने के लिए कोई सुबूत नहीं दिए गए है | अतः हमारी जांच में यह गलत हैडलाइन (FALSE HEADLINE) का मामला है |   

False Headline Title: 12 वर्षीय बच्ची की हत्या के आरोपी को नीतीश ने बनाया DGP – क्या यह हैडलाइन सही है? “
Fact Check By: Rajesh Pillewar 
Result: False Headline


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •