दिल्ली में BJP के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को जाटों ने जूतों से पीटा? – क्या यह सच है ?

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

७ फरवरी २०१९, गुरुवार को फेसबुक पर पहली बार वायरल की गई उपरोक्त पोस्ट माय सीएमएस (My CMS) इस वेबसाइट ने १३ फरवरी २०१९ को उठाई | इसके अलावा न्यूज़एक्सप्रेस डॉट इन नामक वेबसाइट पर भी यह खबर है | वेबसाइट ने अपनी न्यूज़ में कहा है की दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी जब वोट मांगने पहुंचे तो जाट समुदाय के लोगों ने उनकी जूतों से पिटाई कर दी | फेसबुक के अलावा दुसरे सोशल मीडिया प्लेटफोर्म पर भी यह खबर चर्चा में रही |

आरकाइव पोस्ट CMS
आरकाइव पोस्ट NEWSEXPRESS

गूगल पर उपरोक्त हैडलाइन को सर्च करने पर हमें काफी परिणाम दिखे, जो इस लेख के प्रचलित होने का प्रमाण देते हैं|

पत्रकारिता के मापदंडों से यह एक रोचक खबर थी, लेकिन मुख्य धारा की किसी समाचार एजेंसी द्वारा यह खबर दिए जाने की पुष्टि नहीं होने के कारण हमने सच्चाई जानने की कोशिश की |    

खंगालने के बाद यह पता चला कि इन दोनों वेबसाइट पर जो फोटो दिया गया है वह वास्तव में किसी दूसरी घटना का है जो दरअसल ४ नवम्बर २०१८ को घटित हुई है | इस दिन दिल्ली में प्रदेश के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन किया था | मनोज तिवारी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे लेकिन आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता तथा पुलिस ने उन्हें कार्यक्रम में स्टेज साझा करने से रोका | इस समय मनोज तिवारी की आप कार्यकर्ताओं व दिल्ली पुलिस के साथ झड़प हुई |

यह फोटो जो है वह उस समय का है | फोटो डीएनए अखबार के फोटोग्राफर द्वारा लिया गया है जिसका प्रमाण नीचे दिए हुये लिंक पर मौजूद है |
DnaIndia

अब बात करते हैं जिन्होंने यह खबर दी है वो माय सीएमएस (My CMS) एवं न्यूज़एक्सप्रेस डॉट कॉम की |

इन दोनों ने यह जो खबर दी है उसका न कोई पुख्ता सूत्र दिया है और न ही फोटो या विडिओ जो इस दावे की पुष्टि कर सके | उल्टा किसी दूसरी घटना का फोटो देकर वह पीटने वाली कथित घटना का होने का आभास कराया गया है | दूसरी बात इन दोनों वेबसाइट की सत्यता प्रस्थापित नहीं होती है | साईट पर उनके बारे में कोई जानकारी मौजूद नहीं है जैसे कि ये साईट किसकी है, कौन चला रहा है, किसे कॉन्टेक्ट किया जा सकता है आदि |

तथ्यों की जांच का परिणाम :
इस संशोधन से यह पता चलता है की मनोज तिवारी से सम्बन्धित किसी दूसरी घटना के फोटो को पीटने वाली कथित खबर में इस्तेमाल किया गया है | इसके अलावा इन दो वेबसाइट के अलावा अन्य किसी भी मुख्य धारा की समाचार एजेंसी ने यह खबर नहीं दी है तथा इन वेबसाइट की सत्यता प्रस्थापित नहीं होती है | अतः हमारी जांच में यह खबर झूठी पाई गई |

False Title: दिल्ली में BJP के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को जाटों ने जूतों से पीटा? – क्या यह सच है ? “
Fact Check By: Rajesh Pillewar 
Result: False (यह ख़बर झूठी है )

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •