अक्षय कुमार के इस प्लान से पाकिस्तान हो जाएगा बरबाद, सेना के लिए तैयार होगा ३६००० करोड़ का फंड- क्या है सच?

Mixture National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यह चित्र हमने Jagran के वेबसाइट से प्रतिनिधित्व हेतु लिया है। इस चित्र का नीचे दिए लेख के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है ।

१७ फरवरी २०१९ को पत्रिका की वेबसाइट द्वारा लिखे गए लेख को फेसबुक पर काफ़ी तेजी से साझा किया जा रही है। उस लेख की हैडलाइन में यह कहा गया है कि “अक्षय कुमार के इस प्लान से पाकिस्तान हो जाएगा बरबाद, सेना के लिए तैयार होगी ३६००० करोड़ का फंड” व उस लेख मे लिखा गया है कि १४ फरवरी २०१९ को पुलवामा आतंकी हमले में लगभग ४४ जवान शहीद होने के बाद देश एक साथ खड़ा हो गया है| लेख में यह कहा गया है कि सोशल मीडिया पर एक मैसेज काफ़ी वायरल हुआ है जिसमे ये लिखा गया है कि पुलवामा आतंकी हमले को ध्यान मे रखते हुए अभिनेता अक्षय कुमार के सुझाव पे मोदी सरकार ने सिंडिकेट बैंक में आर्मी वेलफेयर फण्ड बैटल कैजुअल्टी अकाउंट खोला है|

आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

उपरोक्त पोस्ट में यह कहा गया है कि पुलवामा आतंकी हमले के पश्चात सरकार ने सेना के परिवार के लिए फण्ड शुरू किया है| तथ्यों की जांच के बाद हमने पाया कि आर्मी वेलफेयर बैटल फण्ड कैजुअल्टी केस १७ अक्टूबर २०१६ को नरेंद्र मोदी जी ने शुरू किया था.

Pib.nic.in | आर्काइव लिंक

फैक्ट क्रेस्सन्डो में उपरोक्त विषय पर एक विस्तृत लेख २८ जनवरी को प्रकाशित किया था
आर्मी वेलफेयर एन्ड कैजुअल्टी
भारतीय सैनिक पूर्व सैनिकों, वीर नारियों और युद्ध हताहतों और उनके आश्रितों के कल्याण के लिए दो खातों का संचालन करती है। इनका दान/ योगदान स्वैच्छिक है। इस बात को  भारतीय सेना ने अपने ट्विटर से ट्वीट कर स्पष्ट किया है|

आर्काइव लिंक

१ सितंबर २०१६ को, भारतीय सेना ने अपने आधिकारिक ट्विटर पेज पर एक स्पष्टीकरण पोस्ट किया जिसमें कहा गया था कि वह एक नया बैंक खाता बना रहे है, जिसे आर्मी वेलफेयर फंड बैटल कैजुअल्टी कहा जाएगा। प्राप्त दान का उपयोग युद्ध में मारे गए सैनिकों के परिजनों / विधवाओं / आश्रितों के अगले समर्थन के लिए किया जाएगा। यह २०१६ में सियाचिन में एक घातक हिमस्खलन के बाद में किया गया था जिसमें कई सैनिकों को अपने प्राण गवाने पड़े, बाद में योगदान देने वाले नागरिकों से समर्थन प्राप्त करने का दावा किया था।

आर्काइव लिंक

२४ जनुअरी २०१७ में अक्षय कुमार ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें एक मोबाइल एप या वेबसाइट खोलने का विचार है, जहां देश के नागरिक स्वेच्छा से शहीद सैनिकों के परिवारों के लिए योगदान कर सकते हैं|

आर्काइव लिंक

भारत के वीर फ़ंड ग्रह मंत्रालय के द्वारा २०१७ में स्थापित की गयी थी व अभिनेता अक्षय कुमार ने इस मुहिम में काफ़ी सहयोग दिया। १६ फरवरी २०१९ को अक्षय कुमार ने अपने ट्विटर अकाउंट से लोगों को पुलवामा आतंकी हमले मे शहीद जवानों के लिए योगदान करने का उत्साह जताया| सेना के लिए ३६००० करोड़ रुपये जमा करने का कोई दावा नहीं किया गया है|

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: हैडलाइन में जो ३६००० करोड़ रुपयों कि बात कही है उसे अक्षय कुमार ने हाल ही में कहीं भी नहीं कहा है, उन्होंने २४ जनुवरी २०१७ को एक विडियो मेसेज में हर भारतीय को एक एक रुपये के योगदान कि बात कही है, हालाँकि पत्रिका ने सोशल मीडिया पर वाइरल एक संदेश का हवाला देते हुए अपनी बात रखी है पर कहीं भी पत्रिका ने उन मैंसेजों कि सत्यता व मैसेज लिंक्स नहीं शेयर किये हैं, इस लेख में मिश्रित जानकारी दी गयी है जो कि भ्रामक है|

Mixture Title: अक्षय कुमार के इस प्लान से पाकिस्तान हो जाएगा बरबाद, सेना के लिए तैयार होगा ३६००० करोड़ का फंड- क्या है सच?
Fact Check By: Drabanti Ghosh 
Result: Mixture

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •